नई दिल्ली. देश और दुनिया में शादी को लेकर अलग-अलग रीति रिवाजों बनाए गए हैं. ऐसे में कई तो इस तरह के हैं जिनपर भरोसा करना बेहद ही मुश्किल हैं. ऐसा ही तरह की एक अजीब परंपरा है कंजरभाट समुदाय की. दरअसल इस समुदाय में शादी करना लड़के के लिए जितनी ज्यादा खुशी की बात है, इतनी ही लड़कियों के लिए दुख की बात है. क्योंकि शादी के बाद सुहागरात के दौरान लड़की का वर्जिनिटी टेस्ट किया जाता है. इसके लिए गांव के सरपंच समेत सभी लोग नवविवाहितों के कमरे के बाहर बैठकर इंतजार करते हैं.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सुहागरात एक कपल के लिए बेहद निजी समय होता है. लेकिन कंजरभाट समुदाय में यह बात लागू नहीं होती. जब इस समुदाय के किसी पुरुष की शादी होती है तो वह सुहागरात के लिए बेड पर सफेद चादर बिछाता है. यह सफेद चादर इसलिए बिछाई जाती है ताकी शारीरिक संबंध बनाने के दौरान चादर पर जो खून का दाग लगता है, वह आसानी से चादर पर दिख जाए. जिससे सुबह के समय लड़के के कमरे के बाहर बैठे सरपंच और दूसरे लोग यह तय कर सकें कि दुल्हन पहले से वर्जिन थी या नहीं.

ऐसे में अगर लड़की वर्जिन नहीं होती है तो गांव के लोग उसके साथ जानवरों से भी बुरा सुलूक करते हैं. देश में एक तरफ महिला सम्मान के बारे में इतनी बातें कहीं जाती हैं, लेकिन इस समुदाय में खुलेआम महिला की इज्जत को उछाला जाता है. अजीब बात तो यह कि पिछले काफी समय ये चल रही परंपरा आज भी कायम है.

#MeToo: नाना पाटेकर, विकास बहल से पहले जितेन्द्र, शक्ति कपूर, राजेश खन्ना समेत इन स्टार पर भी लग चुके हैं यौन शोषण के आरोप

गोवाः लिव इन में रही महिला ने दूसरे से की शादी, गुस्साए युवक ने पॉर्न साइट पर अपलोड किया अंतरंग वीडियो

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App