गोरखपुरः उत्तर प्रदेश में एक महिला ने चार पैर और दो लिंग वाले नवजात को जन्म दिया है जिसको देखने के बाद डॉक्टर्स समेत सभी देखने वाले हैरत में पड़े हुए हैं. एक तरफ कुछ लोग इसे भगवान का करिश्मा मान रहे हैं तो कुछ इसको दैवीय शक्ति का अवतार बता रहे हैं. डॉक्टर्स ने बच्चे की हालत को देखते हुए उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया है. बच्चे की निगरानी कर रही डॉक्टर्स की टीम का कहना है कि जांच के बाद ही पता चल सकेगा की ऐसा कैसे मुमकिन हुआ.

मामला उत्तर प्रदेश के गोरखपुर का है जहां हरपुर बुदहट थाना क्षेत्र के जिगिना गांव में भूलन निषाद अपनी पत्नी गुडिया के साथ रहतेहैं भूलन एक मजदूर हैं जो प्रतिदिन मजदूरी करके अपने परिवार का जीवन यापन कर रहे हैं. शनिवार को उन्होंने अपनी पत्नी को प्रसव पीड़ा होने के बाद स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया था. जहां उनकी पत्नी गुड़िया ने एक बच्चे को जन्म दिया जिसके चार पैर और दो लिंग थे जिसको देखने के बाद डिलीवरी कराने वाले डॉक्टर्स समेत पूरे स्वास्थ्य केंद्र में मौजूद लोग हैरान रह गए.

चार पैर और दो लिंग वाले बच्चे के पैदा होने की खबर पूरे इलाके में आग की तरह फैल गई जिसके बाद सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर लोगों की भीड़ लग गई इस अनोखे बच्चे को देखने के लिए. बच्चे को देखने के बाद एक तरफ कुछ लोग इस बच्चे को भगवान का रूप बता रहे हैं तो कोई इसको देवीय शक्ति का अवतार मानकर पूजा करने में जुट गए हैं. फिलहाल डॉक्टर्स ने बच्चे को जांच के लिए जिला अस्पताल के लिए रैफर कर दिया है.

बता दें कि देश में ऐसे अनोखे बच्चे के जन्म का यह कोई पहला मामला नहीं है. इससे पहले भी अलग अलग राज्यों में ऐसे बच्चे पैदा होते रहे हैं. हाल में आगरा में एक महिला ने जुड़वां बच्चे को जन्म दिया था जिनके दोनों सर चारो हाथ और चारो पैर जुड़े हुए थे. जिसके बाद आगरा में बच्चे को देखने के लिए अस्पताल के बाहर पूरे आगरा के लोगों की भीड़ इकट्ठा हो गई थी.

पिल्ला समझकर जिसे लाया घर वो निकला भालू तो उड़ गए होश

सोशल मीडिया के जरिए 70 साल के बुजुर्ग को इस तरह मिला उसका घर