नागपुर: आपने आज तक पुलिस में हर तरह की शिकायतें आती देखी होगी. चोरी, डकैती, खून-खराबा आदि लेकिन क्या आपने कभी दिल चोरी होने की शिकायत दर्ज होते सुनी है? नहीं ना, लेकिन ये मजाक में नहीं सच में हुआ है. नागपुर पुलिस के पास एक युवक आया और बोला कि साहब मेरा दिल खो गया है और दिल चुराने वाली लड़की कहीं मिल नहीं रही है लिहाजा मेरी शिकायत दर्ज की जाए. युवक की बात सुनकर पुलिस हक्की बक्की रह गई.

किसी को समझ में नहीं आ रहा था कि आखिर इस मामले पर कार्रवाई की जाए तो क्या की जाए? युवक भी अड़ा हुआ था कि उसका दिल चुराने वाली लड़की को पुलिस ढूढ़े. पूरा पुलिस महकमा परेशान की आखिर इस मामले में किया जाए तो आखिर किया क्या जाए. जब पुलिसवालों को कुछ नहीं सूझा तो उन्होंने अपने सीनियर अफसरों को फोन मिलाकर मसले का हल पूछा क्योंकि संविधान में इस तरह के किसी मामले का हल नहीं सुझाया गया है.

ये घटना नागपुर पुलिस कमिश्नर भूषण कुमार उपाध्याय ने पिछले हफ्ते उस कार्यक्रम में बताई जिसमें पुलिस ने 82 लाख रूपये की कीमत वाले चोरी हुए सामान उसके असली मालिकों तक पहुंचाए. मीडिया से बात करते हुए भूषण कुमार उपाध्याय ने हल्के फुल्के अंदाज में बताया कि हम चोरी हुआ सामान लौटा सकते हैं लेकिन कभी कभी हमें कुछ ऐसी शिकायतें मिलती हैं जिसे हम कभी भी सुलझा नहीं सकते हैं लिहाजा ठहाकों के साथ मामला वहीं रफा-दफा हो गया और उस आशिक को समझा बुझा कर भेज दिया गया.

Gujarat BJP MLA Murder: रेप मामले में पार्टी से निलंबित पूर्व भाजपा विधायक जयंती भानुशाली की हत्या, चलती ट्रेन में मारी गोली

Alok Verma Supreme Court Verdict Highlights: नरेंद्र मोदी सरकार को सुप्रीम कोर्ट से झटका, सीबीआई चीफ आलोक वर्मा को छुट्टी पर भेजने का फैसला रद्द

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App