Ananad Mahindra Gave Bolero

नई दिल्ली, Ananad Mahindra Gave Bolero महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन और बिज़नेस आइकन आनंद महिंद्रा ने हाल ही में एक लोहार को उसके जुगाड़ के बदले में बुलेरो गिफ्ट करने का वादा किया था जो की पूरा भी किया. पर इस जुगाड़ में ऐसा क्या है? और क्यों पहले इस व्यक्ति ने महिंद्रा के ऑफर को मना कर दिया था. आइये आपको बताते हैं.

महाराष्ट्र के लोहार ने बनाया जुगाड़

महाराष्ट्र के एक लोहार, दत्तात्रेय ने अपनी मेहनत सूझ बूझ से दो सालों में एक जुगाड़ू जीप का निर्माण किया। इसकी खासियत है की इसमें पीछे चार और आगे दो लोग बैठ सकते हैं. इसको सोशल मीडिया पर कई लोगो द्वारा खूब सराहा गया. जिसके बाद इस जुगाड़ पर महिंद्रा ग्रुप्स के चेयरमैन आनंद महिंद्रा की नज़र पड़ी. जहां उन्होंने इस जुगाड़ के बदले लोहार को बोलेरो देने का प्रस्ताव रखा जिसे पहले लोहार ने ठुकरा दिया पर बाद में ये प्रस्ताव और बोलेरो को ले लिया.

मेंटेनन्स को लेकर किया था इंकार

गरीब लोहार ने आनंद महिंद्रा के ऑफर पर इंकार करते हुए ये कारण बताया था कि वह इस महंगी गाड़ी का मेंटेनन्स नहीं उठा सकता. दूसरा तर्क और भी ख़ास था जिसमें जुगाड़ू जीप को लेकर लोहार ने कहा की इसे बनाने में उसे दो सालों की कड़ी मेहनत लगी है जिसे वो ऐसे ही किसी को नहीं देना चाहता.

पहले ठुकराए प्रस्ताव को किया स्वीकार

हालाँकि दत्तात्रेय ने आनंद महिंद्रा के इस प्रस्ताव को बाद में स्वीकार कर लिया. इस बात की जानकारी. आनंद महिंद्रा ने अपने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट के द्वारा दी. जहां उन्होंने तस्वीर में दत्तात्रेय और उनके परिवार की तस्वीर के साथ नीचे कैप्शन में लिखा,शुक्र है की उन्होंने हमारे प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया. कल उनके परिवार को बुलेरो दे दी गयी है. ये जुगाड़ हमारे महिंद्रा रिसर्च वैली में सभी तरह की बाकी कार संग्रह के साथ रखी जाएगी.

यह भी पढ़ें:

Republic Day 2022: 5 घंटे के लिए बंद रहेंगे दिल्ली मेट्रो के ये तीन स्टेशन

BSF and Pakistan Rangers Exchange Sweets on 73rd Republic Day: वाघा बॉर्डर पर जवानों ने मना गणतंत्र दिवस का जश्‍न, BSF और पाकिस्तानी रेंजर्स ने किया मिठाइयों का आदान-प्रदान

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर

SHARE