Saturday, December 3, 2022

विदेशी मुस्लिम कपल को भारत की संस्कृति से हुआ प्यार, मंदिर में रचाई शादी

नई दिल्ली : भारत ऐसा देश है जो सांस्कृतिक रूप से काफी धनी है. यहां की संस्कृति और रिवाज़ की चर्चा विश्व भर में है. सालों से कई बार ऐसे किस्से सामने आए हैं जब विदेश से लोग भारत भ्रमण करने आते हैं और यहीं के होकर रह जाते हैं. ताजा मामला अमेरिकी मूल के एक युवा कपल से जुड़ा हुआ है जिन्हें भारत की संस्कृति से इस तरह प्यार हो गया कि वह भारत के ही होकर रह गए. क्या है ये पूरा मामला आइए बताते हैं.

अमेरिका के हैं मूल निवासी

कई विदेशी नागरिकों की तरह ही अमेरिका के मूल निवासी और युवा कपल कियामह दीन खलीफा और उनकी पत्नी केशा भारत भ्रमण पर आए थे. अमेरिकी मूल के इस मुस्लिम कपल को भारतीय संस्कृति इतनी पसंद आई कि इन्होने फिर वापस ना जाने का फैसला किया. दोनों ने हिंदू रीति-रिवाज के अनुसार बाबा भोलेनाथ को साक्षी मानकर त्रिलोचन महादेव मंदिर में शादी भी रचा ली. अब यह मामला सोशल मीडिया पर खूब चर्चा में बना हुआ है. इस विदेशी कपल ने शादी से पहले वाराणसी के एक ज्योतिष से अपनी जन्मकुंडली भी बनवाई थी. हिंदू परम्परा के अनुसार दोनों के शादी करने की चर्चाएं हर ओर हो रही हैं. बता दें, कियामह दीन खलीफा और उनकी पत्नी केशा ने वाराणसी के घाटों, मंदिरों व अन्य धार्मिक स्थानों का भ्रमण किया था.

वाराणसी ने जीता दिल

कियमाह ने भारत में अपने गाइड राहुल दुबे से किसी ज्योतिष से उन्हें मिलाने की इच्छा जताई थी. इसके बाद उनका गाइड उन्हें ज्योतिष गोविंद के पास लेकर गए. ज्योतिष ने इस कपल की कुंडली तैयार की जिसके बाद पिछले 18 वर्षों से रिलेशनशिप में रह रहे कियमाह दिन खलीफा ने अपनी प्रेमिका केशा खलीफा ने हिन्दू रीती रिवाज़ के साथ शादी कर ली. दोनों का विवाह वाराणसी के कैथी गांव में स्थित मार्कण्डेय महादेव मंदिर में होना था लेकिन इस धाम में शादी का रजिस्ट्रेशन न होने की वजह से दोनों ने जौनपुर के त्रिलोचन महादेव मंदिर में शादी रचा ली. इस विदेशी कपल ने मंदिर कमेटी से पासपोर्ट वीजा और गवाहों के आधार कार्ड के तर्ज़ पर शादी होने का सर्टिफिकेट मंदिर कमेटी से प्राप्त किया.

IND vs AUS: मोहाली पहुंची भारतीय क्रिकेट टीम, 20 सितंबर को खेला जाएगा पहला टी-20

IND vs AUS: टी-20 सीरीज के ठीक पहले भारतीय टीम को लगा बड़ा झटका, ये स्टार खिलाड़ी हुआ बाहर

Latest news