वाशिंगटन. दुनिया की सबसे बड़ी इंटरनेट कंपनी गूगल द्वारा सोशल साइट चलाने वाली कंपनी ट्विटर के अधिग्रहण की ताजा अफवाहों के चलते मंगलवार को ट्विटर के शेयरों की भारी खरीदारी हुई. इससे ट्विटर के बाजार पूंजीकरण में एक अरब डॉलर का इजाफा हुआ. मीडिया में आई रपटों के अनुसार, ट्विटर के साथ अधिग्रहण को लेकर दो कंपनियां गंभीर बातचीत में संलग्न थीं, जिनमें से एक कंपनी गूगल को माना जा रहा था.

ट्विटर ने कथित तौर पर निवेश समाधान देने वाली कंपनी गोल्डमैन सैक्स की सेवाएं ली हैं. 10 वर्ष पुरानी कंपनी ट्विटर का इस समय बाजार पूंजीकरण 34 अरब डॉलर से भी अधिक है तथा उसके 28.8 करोड़ शेयर धारक हर महीने खरीद-बेच करते हैं. दूसरी ओर इंटरनेट की अगुवा गूगल का बाजार पूंजीकरण 60 अरब डॉलर का है और विशेषज्ञों के अनुसार, सोशल मीडिया के मामले में गूगल, फेसबुक से काफी पीछे है.

ट्विटर का अधिग्रहण करने में गूगल की रुचि से संबंधित अफवाह कई वर्षो से चल रही है और खबरों के मुताबिक दोनों कंपनियों के अधिकारी इस संबंध में 2011 से ही बातचीत कर रहे हैं: टेलीग्राफ

जिस तरह माइक्रोसॉफ्ट को गूगल से बड़ा खतरा माना जा रहा है, ठीक उसी तरह गूगल को फेसबुक से बड़ा खतरा देखा जा रहा है. उपभोक्ताओं की संख्या और विज्ञापन से मिलने वाली आय के मामले में फेसबुक, गूगल को कड़ी टक्कर दे रहा है. गूगल ने 2011 में अपनी सोशल साइट गूगल प्लस शुरू की, लेकिन फेसबुक के आगे यह कहीं पीछे है.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App