वडोदरा. गुजरात में वडोदरा शहर के इटोडा गांव के निकट विश्वामित्री नदी में एक मां ने बड़ी साहसी से अपनी बेटी सांता की जान मगरमच्छ से बचा लिया. पुलिस के अनुसार इटोडा निवासी दिवाणी बेन मकवाणा की पुत्री शांता मकवाणा नदी में कपडे धोने गई थीं. इसी दौरान मगरमच्छ ने शांता को पैरों से पकड़ कर पानी में खींच लिया. तभी शांता की मां दिवाणी को चीख सुनाई दी तो वह दौड़ कर आई और झट से बेटी का हाथ पकड़ लिया. दिवाली ने अपने दूसरे हाथ से पास में ही रखा कपड़े धोने वाला बैट उठाया और मगरमच्छ पर वार करने लगी.  मगरमच्छ को दिवाणी करीब 10 मिनट तक पीटती रही. तब मगरमच्छ ने शांता का पैर छोड़ा और गहरे पानी में चला गया. 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App