नई दिल्ली. दिल्ली की सुरक्षा देख रही दिल्ली पुलिस के अधिकारी खुद कितने असुरक्षित हैं ये जानकर आप हैरान रह जाएंगे. दिल्ली की पुलिस के पास एक भी बुलेटप्रूफ हेलमेट नहीं है और बुलेटप्रूफ जैकेट भी मात्र 257 पीस हैं.

अंग्रेज़ी अखबार द संडे गार्जियन ने एक आरटीआई के हवाले से खुलासा किया है कि दिल्ली पुलिस के पास एक भी बुलेटप्रूफ हेलमेट नहीं है. दिल्ली की पुलिस के पास कुल 257 बुलेटप्रूफ जैकेट हैं जिनमें सबसे अधिक 125 जैकेट नई दिल्ली जिले की पुलिस के पास है. क्राइम ब्रांच के पास महज 11 बुलेटप्रूफ जैकेट हैं. संसद मार्ग थाने के पास 41 बुलेटप्रूफ जैकेट हैं.

आरटीआई से हुआ खुलासा

स्वयंसेवी संस्था चेतना के अध्यक्ष अनिल सूद ने यह आरटीआई लगाई थी. सूद ने कहा कि भगवान न करे कि दिल्ली में मुंबई जैसा कोई आतंकी हमला हो गया तो पुलिस वाले अलग-अलग जगहों पर रखे गए बुलेटप्रूफ जैकेट जुटाने में ही समय गंवा देंगे.

सूद ने कहा कि सिर्फ बुलेटप्रूफ जैकेट अपने आप में काफी नहीं है क्योंकि अगर बुलेटप्रूफ हेलमेट साथ में न पहना जाए तो मानव शरीर का सबसे संवेदनशील हिस्सा सिर खतरनाक चीजों के लिए खुला रह जाता है.

2008 में बाटला हाउस मुठभेड़ के दौरान शहीद हुए इंस्पेक्टर मोहन चंद शर्मा ने भी बुलेटप्रूफ जैकेट नहीं पहनी थी और कोर्ट ने इस मसले पर सवाल भी उठाया था कि क्या ये अदम्य साहस था या पेशेवर कमी.

दिल्ली की पुलिस सीधे केंद्र सरकार के गृह मंत्रालय के तहत काम करती है इसलिए दिल्ली पुलिस को आधुनिक सुरक्षा उपकरण देना भी केंद्र सरकार का काम है. दिल्ली पुलिस को लेकर केंद्र सरकार और दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार के बीच तकरार चलती रहती है.

द संडे गार्जियन पर यह ख़बर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App