Friday, December 9, 2022
गुजरात नतीजे (182/182)  हिमाचल नतीजे (68/68) 
BJP - 156 BJP - 25
AAP - 05 CONG - 40 
CONG - 17  AAP - 00
OTH - 04  OTH - 03 

 Green Tea पीने के फायदे जानकर, आज से पीना कर देंगे शुरू

0
Green tea benefits: ग्रीन टी (Green tea) से होने वालों फायदों को लेकर तमाम दावे किए जाते हैं. कुछ लोग कहते हैं कि ग्रीन...

इन सवालों से समझें पूरे गुजरात चुनाव का गणित: क्यों AAP का दिल्ली मॉडल...

0
गाँधीनगर: यदि गुजरात में इस ऐतिहासिक भाजपा जीत के पीछे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम के अलावा कोई महत्वपूर्ण कारण है, तो वह है...

Himachal Election Result 2022: अन्य के खाते में आई 3 सीटे, जाने किसने की...

0
शिमला: हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस ने शानदार प्रदर्शन करते हुए बीजेपी से आगे निकल गई है।कांग्रेस ने बहुमत का आंकड़ा पार कर लिया है।...

हिमाचल से जीतने के बाद कांग्रेस विधायकों की चंडीगढ़ में बैठक, राजस्थान या छत्तीसगढ़...

0
नई दिल्ली: हिमाचल प्रदेश के कांग्रेस विधायक दल की बैठक चंडीगढ़ में होगी। कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक पहले यहां चंडीगढ़ में जीते हुए विधायक...

Himachal Election Result 2022: कांग्रेस ने मारी बाजी, जाने हर सीट के नतीजे

0
शिमला: हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस शानदार प्रदर्शन करते हुए बीजेपी से आगे निकल गई है। कांग्रेस ने बहुमत का आंकड़ा पार कर लिया है।...

कभी महिला से गाड़ी ठीक करवाई है? तो मिलिए 55 साल की शांति देवी से

नई दिल्ली. आप कहीं लॉन्ग ट्रिप पर जा रहे हैं और आपकी गाड़ी का टायर पंचर हो जाए तो आप किसी मकैनिक की तलाश करेंगे. बेशक आप उम्मीद करेंगे कि मकैनिक पुरुष हो. लेकिन अगर आपको महिला मकैनिक मिल जाए तो?
 
हैरान हो गए ना. लेकिन यह बात बिल्कुल सच है. भारत में ऐसी पहली महिला मकैनिक है जिसे टायर का पंचर बनाने के साथ-साथ टायर फिक्स करना भी अच्छे से आता है.
 
इस महिला मकैनिक का नाम शांति देवी है, जिसकी उम्र 55 वर्ष है, जो दिल्ली की रहने वाली है. शांति पिछले 20 सालों से मकैनिक्स का काम कर रही हैं. जो रोजाना 10-15 टायरों के पंक्चर बनाती हैं. शांति 50 किलो के टायर को आराम से उठा और हिला सकती हैं.
 
 
शांति अपने घर-परिवार के लिए काम करने की ये ललक आपको दिवाना कर देगी.  मकैनिक काम से पहले वो दिल्ली की सीमा पर स्थित एक टी स्टाल पर काम करती थी. लेकिन सिर्फ इतने घर का खर्चा पूरा नहीं होता था तो ओवर टाइम करने के लिए उसने ने पति से मकैनिक्स का काम सीखा. 
 
इसके अलावा शांति को समाज के सवालों का भी सामना करना पड़ा है. उसके इस काम पर उंगलिया भी उठाई. लेकिन उसने अपने काम से सभी कस्टमर्स का भी दिल जीत लिया.
 
इन सबके अलावा भी शांति को जब समय मिलता है वो स्कूलों और कॉलेजों में स्पीच भी देती है. शांति देवी का यह हौसला देखकर यही लगता है अगर आप कुछ करना चाहें तो आपको कोई नहीं रोक सकता.  

Latest news