नई दिल्ली. यह तो हम जानतें कि हर व्यक्ति की अपनी-अपनी खाने की आदतें होती हैं. खाने में कुछ चीजें हमें बेहद पसंद होती हैं, जिन्हें बार-बार खाना अच्छा लगता है. लेकिन, आपको जानकर हैरानी होगी कि कर्नाटक में एक लड़की है, जो सिर्फ पारले-जी बिस्कुट खाना ही पसंद करती है. वह 18 सालों से रोज केवल पारले-जी बिस्कुट ही खा रही है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
द इंडियन एक्सप्रेस की एक खबर के मुताबिक यह हैरान कर देने वाला मामला कर्नाटक की गोकुक तालुका का है. यहां रहने वाली रामावा रोजाना पारले-जी के छह से सात पैकेट खाती है. रामावा और उसका भाई बचपन से गाय के दूध के साथ पारले-जी खाते थे. भाई ने बाद में दूसरे चीजें भी खानी शुरू कर दीं लेकिन रामावा आज भी सिर्फ बिस्कुट ही खा रही है. 
 
रामावा एक किसान परिवार से है, जो अपनी बेटी के लिए बिस्कुट और इलाज दोनों का ही खर्च नहीं उठा सकता. रामावा की मां को बचपन में दूध नहीं होता था इसलिए वो बच्चों को दूध और पारले-जी बिस्कुट ही खिलाते थे. इसके बाद मां-बाप ने उसे कुछ और खिलाने की भी कोशिश की लेकिन फायदा नहीं हुआ.
 
रामावा कहती है कि उसे कुछ और खाने का मन नहीं करता. साथ ही उसे नहीं पता कि अगर कंपनी ये बिस्कुट बनाना कर देगी, तो उसका क्या होगा. रामावा की इस विशेष आदत का पता चलने पर राज्य के लेक व्यू हॉस्पिटल ने उस पर शोध करना भी शुरू कर दिया है. हालांकि, डॉक्टर भी रामवा की ये आदत छुड़ाने में कामयाब नहीं हो पाए. 
 
डॉक्टरों का कहना है कि रामवा को कोई बीमारी नहीं है लेकिन सिर्फ बिस्कुट खाने से उसका शरीर उम्र के अनुसार विकसित नहीं हो पाया है. वह भविष्य में कुछ और भी खाना शुरू कर सकती है. उसे इस वक्त मनोवैज्ञानिक इलाज की जरूरत है.