बेंगलुरु: कर्नाटक विधानसभा चुनावों में फिलहाल कांग्रेस और जेडीएस की सीटें बीजेपी से कम हों, लेकिन वे सरकार बनाने की स्थिति में पहुंच गई हैं. कांग्रेस ने जेडीएस को सरकार बनाने का अॉफर दिया है. इसके लिए वे राज्यपाल से भी मिलेंगे. दोपहर दो बजकर 30 मिनट तक बीजेपी 106, कांग्रेस 73 और जेडीएस 41 सीट पर बढ़त बनाए हुए हैं. सरकार बनाने के लिए 112 सीटों के जादुई आंकड़े की जरूरत है. अगर कांग्रेस और जेडीएस के आंकड़े को जोड़ दिया जाए तो 115 सीटें बनती हैं. यानी विधानसभा में बहुमत साबित करने के लिए उनके पास पर्याप्त सीटें हैं.

बीजेपी को रोकने के लिए कांग्रेस ने जेडीएस के कुमारस्वामी को मुख्यमंत्री बनाने की पेशकश की है. अगर बीजेपी की सीटें 110 से कम रहती हैं तो उसके लिए सरकार बनाना मुश्किल हो जाएगा. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने जेडीएस सुप्रीमो एचडी देवगौड़ा को सरकार बनाने का अॉफर दिया है, जिसका मतलब ये हुआ कि अगर कांग्रेस और जेडीएस सरकार बनाती हैं तो उस सरकार में मुख्यमंत्री जेडीएस के एचडी कुमारस्वामी होंगे. अभी यह साफ नहीं है कि एेसी सरकार में कांग्रेस शामिल होगी या बाहर से सरकार को समर्थन देगी. 

गौरतलब है कि प श्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को कहा कि कांग्रेस ने यदि जनता दल सेक्युलर (जेडीएस) से गठबंधन किया होता तो पार्टी चुनाव में अच्छा प्रदर्शन कर सकती थी. ममता ने विजेताओं को बधाई दी, हालांकि उन्होंने भाजपा का जिक्र नहीं किया। ममता ने ट्वीट कर कहा, “कर्नाटक चुनाव के विजेताओं को बधाई। जो हार गए हैं, वो धुंआधार वापसी करें. यदि कांग्रेस ने जेडीएस से गठबंधन किया होता तो नतीजे अलग होते.”

Karnataka Elections Results 2018: कांग्रेस को बीजेपी से ज्यादा वोट लेकिन सीटों का अकाल- ऐसा कैसे हो गया ?

Karnataka Election Counting Results 2018 Analysis: कर्नाटक का जनादेशः 2019 की मजबूरी है, महागठबंधन ज़रूरी है !

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App