झारखंड. देश की सबसे मुश्किल परीक्षा संघ लोक सेवा आयोग (UPSC Results) का परिणाम घोषित किया जा चूका है. सिविल सर्विसेज मेन एग्जाम 2020 में शुभम कुमार ने टॉप किया है. इसके बाद जागृति अवस्थी ने दूसरा और अंकिता जैन ने तीसरा स्थान हासिल किया है. इस परीक्षा में कुल 761 उम्मीदवार सफल हुए हैं. ऐसे में हर टॉपर ( UPSC Topper ) की कहानी अपने आप में एक प्रेरणा स्त्रोत है. ऐसी ही एक कहानी है ऑल इंडिया 55 रैंक लाने वाले झारखंड के हजारीबाग के सुरेश कॉलोनी के गिरजानगर निवासी उत्कर्ष कुमार की, जिन्होंने देश सेवा के लिए अपनी 29 लाख सालाना पैकेज वाली नौकरी छोड़ दी थी.

नौकरी छोड़ने के बाद परिवार ने किया सुरेश को सपोर्ट

उत्कर्ष ने IIT में पांचवी रैंक हासिल की थी, जिसके बाद उन्हें एक अमरीकी कम्पनी में 29 लाख सालाना पैकेज वाली जॉब भी मिली थी. लेकिन, उत्कर्ष को शुरू से ही देश के लिए कुछ करना था उन्हें देश की सेवा करनी थी इसलिए उन्होंने अपनी नौकरी छोड़ दी थी.

उत्कर्ष बताते हैं कि, “IIT से जॉब छोड़ कर आना परिवार के लिए एक झटके के समान था, लेकिन परिवार मेरे साथ खड़ा रहा उनकी सफलता की मूल वजह रही. वह आगे कहते हैं कि हजारीबाग शिक्षा के लिए काफी बेहतर जगह है और अगर मुझे प्रशासनिक पदाधिकारी के रूप में झारखंड में कार्य करने का मौका मिले तो मैं हजारीबाग के लिए कई क्षेत्रों में कार्य करना चाहूंगा.”

 

यह भी पढ़ें :

PM Modi at UNGA :पीएम मोदी का चीन-पाकिस्तान को सीधा संदेश न आतंकवाद चलेगा न विस्तारवाद

SSC Selection Post Phase 9 2021: एसएससी ने निकाली 3261 पदों पर भर्तियां, युवाओं के लिए सुनहरा अवसर