लखनऊ. UP Board Exam 2019: नकल पर सख्ती की वजह से माध्यमिक शिक्षा परिषद उत्तर प्रदेश (यूपी बोर्ड ) की परीक्षा 40 हजार से ज्यादा छात्रों ने पहले ही दिन छोड़ दिया है. यूपी बोर्ड द्वारा जारी की गई रिपोर्ट्स की मानें तो पेपर कठिन आने और नकल न कर पानें की वजह से लगभग 40 हजार छात्रों ने एग्जाम छोड़ दिया.

यूपी बोर्ड सेक्रेटरी नीना श्रीवास्तव की मानें तो नकल न कर पानें की वजह से 40 हजार से ज्यादा छात्रों ने एग्जाम छोड़ दिया. यूपी बोर्ड एग्जाम का पेपर जिन अभ्यर्थियों ने छोड़ा है उसमें से अधिकतर ने अपने कॉपी में एक पेज भी नहीं लिखा था. 2018 की बोर्ड परीक्षा में प्रशासन की सख्ती की वजह से लगभग 1 लाख से ज्यादा छात्रों ने एग्जाम छोड़ा था. नकल रोकने लिए विभाग द्वारा 2018 में सेंटरों एसटीएफ की तैनाती की गई थी. परीक्षा में नकल न होने पाएं इसके लिए यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ डिस्ट्रीक्ट मजिस्ट्रेटों से समय-समय पर रिपोर्ट्स मांगते रहते थे जिसकी वजह से एग्जाम सेंटर पर नकल माफिया भी सक्रिय नहीं हो पाए थें.

2019 यूपी बोर्ड हाईस्कूल की परीक्षा में कुल 31,95603 और इंटरमीडिएट की परीक्षा में कुल 26,11,319 छात्र रजिस्ट्रर्ड हैं. बोर्ड एग्जाम में किसी प्रकार की नकल न होने पाएं इसके लिए सेटरों पर सीसीटीवी और वॉइस रिकॉर्डर लगाए गए है. राज्य भर में बोर्ड परीक्षा के लिए कुल 8354 परीक्षा सेंटर बनाएं गए हैं. परीक्षा में नकल न होने पाएं इसके लिए संवेदनशील और अतिसंवेदनशील परीक्षा सेंटरों पर अतिरिक्त पुलिस बलों की तैनाती की गई है. परीक्षा सेंटर से 500 मीटर दायरे तक धारा 144 भी लागू की गई है. यूपी बोर्ड 2019 की परीक्षाएं 16 वर्किंग डे अंदर ही इस बार संपन्न कराई जाएंगी.

10 Percent Upper Quota: गरीब सवर्णों को सिर्फ मार्क्स में मिलेगा 10 प्रतिशत आरक्षण, उम्र में कोई छूट नहीं

GPSC Mains Admit Card 2018: गुजरात पब्लिक सर्विस कमीशन 2018 मेन्स एडमिट कार्ड जारी, ऐसे करें डाउनलोड

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App