महाराष्ट्र. School-College Reopening : कोरोना के मामलों में कमी देखते हुए अब राज्यों में स्कूल-कॉलेज खोलने की प्रक्रिया शुरू हो गई है. इसी क्रम में कोरोना एहतियातों का ध्यान रखते हुए कई राज्यों में स्कूल खुल भी चुके हैं. जहाँ स्कूलों के लिए विशेष कोरोना निर्देशों का पालन करना पड़ रहा है, वहीं कॉलेजों में छात्रों, श‍िक्षकों और स्टाफ के लिए ये एक जरूरी शर्त लागू की गई है जिसे कोरोना संक्रमण फैलने से बचाने के लिए जरूरी माना जा रहा है.

20 अक्टूबर से खुल रहा महाराष्ट्र विश्वविद्यालय

कोरोना के मामलों में कमी देखते हुए कई राज्यों में स्कूल-कॉलेज खोल दिए गए हैं, इसी के तहत अब महाराष्ट्र में भी कॉलेज खुलने की तैयारी में है. महाराष्ट्र में कोरोना प्रोटोकॉल्स का पालन करते हुए 4 अक्टूबर से कक्षा पांचवीं से बारहवीं तक के छात्रों के लिए स्कूलों को खोला गया है. इस बारे में राज्य के उच्च और तकनीकी शिक्षा मंत्री उदय सामंत ने बुधवार को कहा कि “महाराष्ट्र के सभी कॉलेज और विश्वविद्यालय 20 अक्टूबर से शारीरिक कक्षाएं संचालित कर सकते हैं. सभी गैर-कृषि कॉलेज, राज्य द्वारा संचालित विश्वविद्यालय, डीम्ड विश्वविद्यालय, स्व-वित्तपोषित विश्वविद्यालय और उनसे संबद्ध कॉलेज 20 अक्टूबर से शारीरिक कक्षाएं शुरू कर सकते हैं. यहां शिक्षण के साथ-साथ गैर-शिक्षण कर्मचारियों को प्राथमिकता पर अपना टीकाकरण पूरा करना चाहिए.”

फुल्ली वक्सीनेटेड छात्रों को ही मिलेगी कॉलेज में एंट्री

खबर है की कॉलेज में दोनों खुराक ले चुके छात्रों को ही आने की अनुमति होगी. आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 के तहत अधिकार प्राप्त स्थानीय अधिकारियों के साथ इस मामले पर चर्चा करने के बाद एक कक्षा में कितने छात्रों को उपस्थित होना है, इस सम्बन्ध में एक एसओपी जारी की जाएगी, जिसके आधार पर ही छात्र कॉलेज में आएंगे.

यह भी पढ़ें :

NEET RESULT 2021: आज जारी होगी कट-ऑफ़ और स्कोरकार्ड,ऐसे करे डाउनलोड

Jong’s Soldiers Showed The Feat : किम जोंग के सैनिकों ने दिखाया कारनामा, सिर से तोड़ी ईंटें, गर्दन से मोड़ीं छड़ें

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर