नई दिल्ली. RRB Group D Exam Date: भारतीय रेलवे ग्रुप-D की परीक्षा का उम्मीदवार लगभग 3 साल से इंतज़ार कर रहे हैं. इस परीक्षा के जरिए रेलवे में रिक्त 1.3 लाख पदों पर भर्ती की जानी हैं. इस परीक्षा के लिए एक करोड़ 26 लाख छात्रों ने अप्लाई किया हैं. यह परीक्षा देश की सबसे बड़ी भर्ती परीक्षा है, जिसका एग्जाम तीन सालों से नहीं हुआ हैं. इस परीक्षा को लेकर अब उम्मीदवारों का सब्र का बांध अब टूटने लगा हैं.

उम्मीदवारों ने आज रेलवे भवन के गेट पर जमकर विरोध किया और सोशल मीडिया के माध्यम से ##JusticeForRailwayStudents लिख कर इस मुद्दे को विश्व भर में ट्रेंडिंग में ला दिया।

meme के जरिए छात्रों का आक्रोश

ट्विटर पर उम्मीदवार अलग-अलग meme के जरिए रेलवे के प्रति अपना आक्रोश व्यक्त कर रहे हैं. जैसे-जैसे इस परीक्षा को लेकर छात्रों में आक्रोश बढ़ा तो रेलवे ने अब इस मुद्दे पर संज्ञान लिया है. रेलवे ने ग्रुप-D परीक्षा के लिए अब एक नोटिफिकेशन जारी किया है, जिसमें छात्रों को अपने डिटेल्स को सही करने का मौका दिया गया है.

जारी किए गए नोटिफिकेशन के अनुसार जिन उम्मीदवारों का आवेदन गलत फोटो और हस्ताक्षर की वजह से रद्द कर दिया गया थाउनके लिए आवेदन में हुई गलती को सुधारने के लिए 15 दिसंबर 2021 को आरआरबी की आधिकारिक वेबसाइट पर मॉडिफिकेशन लिंक एक्टिवेट किया जाएगा।

ऐसे होगा उम्मीदवारों का चयन

इन पदों पर भर्ती के लिए उम्मीदवारों का चयन लिखित परीक्षा, फिजिकल एफिशिएंसी टेस्ट, डॉक्युमेंट वेरीफिकेशन और मेडिकल एग्जाम के आधार पर किया जाएगा।

रेलवे ने जमा किए 864 करोड़ !

युवा हल्ला बोल संगठन के अध्यक्ष अनुम ने ट्वीट करते हुए लिखा कि सरकारी नौकरी का सपना दिखाकर रेलवे ने बेरोजगार युवाओं से 864 करोड़ जमा कर लिए. ये हम नही, खुद सरकार ने संसद में जवाब दिया है.एक साल से ज्यादा बीत गया, लेकिन अब तक प्रारंभिक परीक्षा का भी अता पता नही.तो क्या अब बेरोजगार युवाओं से इक्कट्ठा किए पैसों से सूद कमाएगी यह सरकार?

यह भी पढ़ें:

Jawahar Laal Nehru University Controversy: JNU में बाबरी मस्जिद दोबारा बनाने की उठी मांग

Atrangi re : सारा अली खान ने किया खुलासा कि वह अक्षय कुमार को ‘उत्तर का थलाइवर’ क्यों कहती हैं व धनुष को क्यों मानती है प्ररेणा स्त्रोत

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर