राजस्थान. ख़बर राजस्थान से है जहाँ प्रदेश के 35 हज़ार बस चालक हड़ताल पर आ गए हैं. निजी बस आपरेटरों का आरोप है कि कोरोना की वजह से सरकार ने लॉकडाउन लगा रखा था और निजी बसों के परिवहन पर रोक थी. इसके बावजूद भी सरकार उस दौरान टैक्स वसूली कर रही थी.

यह है बस चालकों की मांगे

निजी बस चालकों ने नाराज़गी जताते हुए सरकार को घेरा है और आरोप लगया है कि पहले ही कोरोना की वजह से सरकार ने लॉकडाउन लगा रखा था इस दौरान निजी बस ट्रांसपोर्टेशन पूरी तरह ठप पड़ा था. लेकिन सरकार तब भी टैक्स वसूल रही थी. मामले पर सरकार से कई दौर की बातचीत हुई थी लेकिन सरकार किसी भी हाल में अपना रेवेन्यू छोड़ने को तैयार नहीं थी. जिसके चलते बस चालकों की आर्थिक स्थिति पर गहरा प्रभाव पड़ा और उन्हें खाने तक के लाले पड़ गए थे.

निजी बस ऑपरेटर्स एसोसिएशन ने धमकी दी है कि अगर सरकार कोरोना काल के दौरान लगाए गए टैक्स को वापस नहीं लेगी तो पूरे राज्य में अनिश्चितकालीन चक्का जाम किया जाएगा. बहरहाल, सरकार के फैसले से नाराज़ 35 हज़ार बस चालक हड़ताल पर हैं.


सरकार की अपील, कहा टाल दें अपनी यात्रा

35 हज़ार निजी बस चालकों की हड़ताल के बाद सरकार ने आमजन से अपील की है कि राज्य में 3000 सरकारी बसें चलती रहेगी. राजस्थान सरकार का कहना है कि लोगों को परेशानी ना हो, इसके लिए व्यवस्था की गई है. हालांकि, सरकार की ओर से अपील की गई है कि जो लोग अपनी यात्रा टाल सकते हैं, वे यात्रा टाल दें.

REET परीक्षार्थियों पर पड़ेगा असर

बता दें कि कल ख़बर सामने आई थी कि 26 सितम्बर को राजस्थान में शिक्षक पद के लिए होने वाली REET परीक्षा के परीक्षार्थी प्राइवेट बसों में भी मुफ्त में में सफ़र कर सकेंगे. खुद प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने REET परीक्षा की तैयारियों को लेकर कल हुई अहम बैठक में इसके निर्देश दिये थे. बता दें कि रोडवेज बसों में परीक्षार्थियों के लिये निशुल्क यात्रा के आदेश पहले ही जारी किए जा चुके थे. काल निजी बसों को भी इसमें शामिल किया गया था.

इससे पहले प्रतियोगी परीक्षा देने वाले परीक्षत्रियों को निशुल्क यात्रा की सौगात मुख्यमंत्री गहलोत ने पिछले बजट में दी थी. अभी तक रोडवेज की बसों में अभ्यर्थियों को यह सुविधा दी जा रही थी लेकिन में रीट परीक्षा में अभ्यर्थियों की बड़ी संख्या को देखते हुये उन्हें प्राइवेट बसों में भी इसकी छूट दी गई थी. अब निजी बस चालकों की हड़ताल का असर निश्चित रूप से REET परीक्षार्थियों पर भी पड़ेगा, अब परीक्षार्थी परीक्षा केंद्रों तक जाने के लिए मुफ़्त सफ़र नहीं कर सकेंगे.

यह भी पढ़ें :

Corona Vaccination : इटली ने भी दी भारत की कोविशील्ड को मान्यता

Maharashtra पिता की यादें जिंदा रखने के लिए बेटे ने किया ऐसा काम