नई दिल्ली. भारत अपनी आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है। साथ ही राष्ट्रीय बालिका दिवस के खास अवसर पर आयोजित समारोह में पीएम नरेंद्र मोदी ने सोमवार को विभिन्न क्षेत्रों के 29 बच्चों को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार PM Rashtriya Bal Puraskar 2022 प्रदान किए। देशभर से चुने गए इन बच्चों में 15 लड़के और 14 लड़कियां शामिल रहे। जिनमें से 7 बच्चों को नवाचार के लिए, 4 बच्चों को सामाजिक सेवा के लिए, 1 बच्चे को शिक्षा के लिए, 8 बच्चों को खेल के लिए, 6 बच्चों को कला संस्कृति के लिए, और 3 बच्चों को बहादुरी के लिए पुरस्कार दिया गया।

विशेष योगदान के लिए पुरस्कार

इंदौर, मध्यप्रदेश के रहने वाले अवि शर्मा को उनके विशेष योगदान के लिए पीएम राष्ट्रीय बाल पुरस्कार से सम्मानित किया गया। 24 जनवरी को पीएम ने उन्हैं डिजिटल प्रमाण पत्र और एक लाख रुपये का नकद पुरस्कार प्रदान किया। बता दें कि अवि शर्मा ने साल 2020 में रामायण लिखी थी और 2021 में मुफ्त वैदिक गणित और कोडिंग ऑनलाइन सिखाई थी।

पहली बार हुआ ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल

पीएम मोदी ने ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी blockchain technology का इस्तेमाल करते हुए सभी विजेताओं को डिजिटल प्रमाण पत्र दिए। साथ ही 1,00,000/- रुपये का नकद पुरस्कार विजेताओं के संबंधित खातों में ऑनलाइन ट्रांसफर किया गया। गौरतलब है कि ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी का निर्माण IIT कानपुर द्वारा किय गया है जिसका इस समारोह में पहली बार इस्तेमाल किया गया।

पीएम मोदी ने बच्चों को सराहा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत के सभी बच्चों, विशेषकर बेटियों के काम की खूब सराहना की। उन्होंने कहा ये नया भारत है, जो इनोवेशन से पीछे नहीं हटता, साहस और संकल्प आज देश की पहचान है।

यह भी पढ़ें :

Indian Army Recruitment 2022: भारतीय सेना में 10वीं और 12वीं पास के लिए नौकरियां, 63 हजार तक मिलेगा वेतन

Samajwadi Party Release 2nd List of Candidate: यूपी विधानसभा चुनाव के लिए समाजवादी पार्टी ने जारी की 159 उम्मीदवारों की दूसरी लिस्ट, जेल में बंद आजम खान का नाम भी लिस्ट में शामिल

 

SHARE