नई दिल्ली. JEE Main 2019: संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई) मुख्य और एडवांस परीक्षा आईआईटी और एनआईटी समेत देश के शीर्ष इंजीनियरिंग संस्थानों में प्रवेश के लिए आयोजित की जाती है. इस साल, मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने घोषणा की है कि एक वर्ष में दो सत्रों में जेईई आयोजित की जाएगी. छात्र एक या दोनों सत्रों के लिए अपनी परीक्षा की तारीख चुनने में सक्षम होंगे. पहला सत्र जनवरी में आयोजित किया जाएगा, और दूसरा सत्र अप्रैल में आयोजित किया जाएगा. दोनों परीक्षाएं कंप्यूटर-आधारित मोड में आयोजित की जाएंगी.

टेस्ट का नया तरीका विशेष रूप से ग्रामीण इलाकों के उम्मीदवारों के लिए थोड़ा चुनौतीपूर्ण हो सकता है. पिछले साल उम्मीदवार को पेन और पेपर मोड या कंप्यूटर-आधारित मोड में परीक्षा लेने का विकल्प था. परीक्षा के लिए पंजीकृत 11 लाख छात्रों में से लगभग दो लाख ने पेन और पेपर मोड का चयन किया था. ऐसा इसलिए क्योंकि युवाओं के एक बड़े हिस्से में कंप्यूटर तक पहुंच नहीं है.

कुछ उम्मीदवार छात्र कक्षा 8 के बाद जेईई की तैयारी करना शुरू करते हैं. हालांकि कक्षा 10 के बाद सबसे अधिक उम्मीदवार इस परीक्षा की तैयारी शुरू करते हैं. जब वे 12 वीं कक्षा में होते हैं, तब तक वे अपने कोर्स का अधिकांश हिस्सा पूरा कर चुके होते हैं. वे कई मॉक टेस्ट और पिछले साल के प्रश्न पत्रों को हल करके जेईई के लिए तैयारी शुरू करते हैं. यहां हम आपको बताने जा रहे हैं.

कुछ ऐसे टिप्स जिन्हें आजमाकर इस परीक्षा में सफलता पाई जा सकती है.

1- कंप्यूटर पर जटिल प्रश्नों को हल करने के लिए उपयोग करें. स्कूल के बाद से अधिकांश उम्मीदवार कागज पर अपने प्रश्न हल करने की कोशिश करते हैं. अब इससे बचना चाहिए. एड-टेक ऐप डाउनलोड करें. जो आपकी पेपर से संबंधित म़ॉक प्रश्न हल करने और फिर कंप्यूटर पर उत्तर को चिह्नित करने में मदद करेगा.

2- अगर आपने अभी तक जेईई जनवरी सत्र के लिए आवेदन नहीं किया है तो जनवरी परीक्षा के लिए पंजीकरण करें. नए कंप्यूटर-आधारित प्रारूप के साथ सहज होने के लिए इस परीक्षा का प्रयोग करें. अपने काम आने वाली कुछ टिप्स और ट्रिक्स विकसित करें. जनवरी परीक्षा के लिए पंजीकरण 1 सितंबर से 30 सितंबर तक होंगे.

3- जेईई मेन्स परीक्षा में सफलता प्राप्त करने के लिए परीक्षा अभ्यास केंद्रों पर जाएं. नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) देश भर में 3000 से अधिक अभ्यास केंद्र स्थापित करेगी. ताकि आप परीक्षण के इस नए तरीके से अधिक सहज हो सकें. वे एक ऐप जारी करेंगे जो आपको निकटतम परीक्षण केंद्र का पता लगाने में मदद करता है. इसे डाउनलोड करें और अभ्यास केंद्र पर जाएं. यह मुफ्त है.

4- अपनी कक्षा 12 की बोर्ड परीक्षाओं पर ध्यान केंद्रित करें. याद रखें कि जेईई मेन के लिए अर्हता प्राप्त करने के लिए आपको कक्षा 12 बोर्ड परीक्षा में कम से कम 75 प्रतिशत की आवश्यकता है. इस परीक्षा से फोकस न हटाएं. गणित में प्रमेय, आरेख, और अन्य लंबे उत्तरों का अभ्यास करने में समय व्यतीत करें जिन्हें अक्सर आपकी बोर्ड परीक्षाओं के दौरान पूछा जाता है.

UPSSSC ने पेपर लीक होने से बचाने के लिए बनाई रणनीति, तैयार करेंगे प्रश्न पत्र के दो सेट

NEET UG 2019 : नीट यूजी 2019 परीक्षा ऑफलाइन तो यूजीसी नेट और जेईई मेंस 2019 एग्जाम होंगे ऑनलाइन, देखें पूरा शेड्यूल

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App