नई दिल्ली/ अगले महीने यानी 4 मार्च को श्रीनगर में सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज की बैठक होने जा रही है. जिसमें कई बड़े फैसले हो सकते है. सरकार अनिवार्य पीएफ की सैलरी सीलिंग को बढ़ाने का प्लान कर रही है. सरकार यूनिवर्सल मिनिमम वेज़ के हिसाब से PF कटौती के लिए मौजूदा सैलरी सीलिंग बढ़ाने की तैयारी की जा रही है. सूत्रों के मुताबिक PF कटौती के लिए मौजूदा सैलरी सीलिंग में बदलाव हो सकते है और आवश्यक सैलरी सीलिंग 15000 रुपये से बढ़कर 25000 रुपये किया जा सकता है. 

RBI Recruitment 2021: RBI ने नॉन-सीएसजी के पदों पर निकाली बंपर भर्ती, @rbi.org.in

सरकार ज्यादा से ज्यादा लोगो को EPFO के दायरे में लाने को योजना बना रही है. सूत्रों की मुताबिक बैठक में FY21 के EPFO रिटर्न की भी समीक्षा होगी. निवेश से मिले रिर्टन के आधार पर PF पर ब्याज तय होंगी. वर्तमान में बेसिक सैलरी की सीलिंग 15 हजार रुपये है उसे बढ़ाकर 25 हजार रुपये तक किया जा सकता है. बता दें कि अब 12 घंटे की शिफ्ट वालों को सप्ताह में चार दिन ही काम करना होगा. और 10 घंटे की शिफ्ट वालों को सप्ताह में पांच दिन काम करना होगा. 8 घंटे की शिफ्ट वालों को सप्ताह में छह दिन काम करना होगा.

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) अपने खाताधारकों को आंशिक निकासी की सुविधा देता है, ये आपके पीएफ खाते में जमा कुल रकम की 90 फीसदी धनराशि के बराबर हो सकती है. बता दें कि पीएफ से निकाली जाने वाली राशि पूरी तरह कर मुक्त होती है. गौरतलब है कि नॉर्मल सैलरी सीलिंग के ऊपर जिन लोगों की सैलरी है, उनके लिए पीएफ का कॉन्ट्रिब्यूशन वैकल्पिक होता है.

Delhi Nursery Admission 2021: आज से दिल्ली में शुरु हुए नर्सरी के लिए एडमिशन, जानिए पूरी डिटेल्स

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर