अहमदाबाद: अगर आप लीग से हटकर कुछ करना चाहते हैं और क्रिएटिव हैं तो आप डिजाइन एजुकेशन में अपना करियर बना सकते हैं क्योंकि डिजाइन एजुकेशन बाकी एजुकेशन से काफी हटकर होता है. युनाइट वर्ल्ड इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन आपको ये मौका देता है कि आप अपने डिजाइनिंग आइडिया से दुनिया से बात कर सकें और अपना काम पहुंचा सकें.

भारत के सबसे तेजी से बढ़ता हुए इंस्टीट्यूट्स में से एक युनाइट वर्ल्ड इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन हाल ही में चर्चा में तब आया था जब उसने डिजाइन थिंकिंग को लेकर एक्सपर्ट इनफॉरमेशन दी थी. युनाइट वर्ल्ड इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन के डायरेक्टर- एकेडमिक्स, एडमिनिस्ट्रेशन एंड इंटरनेशनल कोलाबरेशन कर्नल सुरोजीत बोस ने हाल ही में इंडिया न्यूज को दिए इंटरव्यू में डिजाइन एजुकेशन और उसके फ्यूचर के बारे में बताया था.

कर्नल सुरोजीत बोस ने कहा था कि डिजाइन थिंकिंग को आज प्रॉब्लम सॉल्विंग एक्टिविटी के तौर पर देखा जाने लगा है. कर्नल सुरोजीत बोस ने ये भी कहा कि युनाइट वर्ल्ड इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन का पूरा फोकस छात्रों को केंद्र में रखते हुए, नए और अनोखे ढंग से भविष्य के लिए तैयार डिजाइनिंग हब तैयार करना है.

उन्होंने बताया कि युनाइट वर्ल्ड इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन ने हाल ही में ग्लोबल डिजाइन कोर्स की शुरूआत की है जिसके एक चरण में बच्चों को अलग-अलग देशों में जाने का मौका मिलेगा. कर्नल बोस ने कहा कि बुनियादी ढांचा, साख, कार्यात्मक क्षमता और अंतराष्ट्रीय सहयोग युनाइट वर्ल्ड इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन की नींव हैं. युनाइट वर्ल्ड इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन कर्नावटी यूनिवर्सिटी के अंतर्गत आता है.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर