दिल्ली. देशभर में कोरोना का कहर अब थमने को है, ऐसे में कोरोना एहतियातों में ढील मिलनी शुरू हो गई है. इसी क्रम में राजधानी में भी स्कूलों को खोला जा चूका है. अब जूनियर कक्षाओं यानी 6वीं से 8वीं के लिए स्कूल खोलने का निर्णय आज दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ( DDMA ) की बैठक में हो सकता है. बता दें कि इससे पहले डीडीएमए की सिफारिश पर ही नौवीं से बारहवीं कक्षाओं के लिए स्कूलों को खोला ( Delhi School Reopening ) गया था. लेकिन अब कोरोना वायरस की संभावित तीसरी लहर की आशंकाओं को देखते हुए फिलहाल जूनियर कक्षाओं के लिए स्कूल नहीं खोले जाएंगे.

त्योहारी सीज़न के बाद ही खुलेंगे स्कूल

दिल्ली सरकार और DDMA ( दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ) की बैठक में यह फैसला लिया गया कि दिल्ली में बच्चों के लिए फिलहाल स्कूल नहीं खोले जाएंगे. राजधानी में बच्चों के लिए स्कूल खोले जाने से दिल्ली सरकार तो सहमत नज़र आई लेकिन अभिभावकों और शिक्षकों ने अभी स्कूलों के खोले जाने पर अपनी आपत्ति जताई. जिसके बाद, इस फैसलेको त्योहारी सीज़न तक टाल दिया गया है. DDMA का कहना है कि त्योहारों के बाद ही स्कूलों को खोलने का फैसला लिया जा सकता है.

सरकारी स्कूलों में 10वीं और 12वीं में पढ़ने वाले छात्रों की प्री-बोर्ड की परीक्षाएं 21 अक्टूबर से शुरू होंगी. शिक्षा निदेशालय ने इस संबंध में सरकारी, सहायता प्राप्त, एनडीएमसी, दिल्ली कैंटोनमेंट बोर्ड स्कूलों के प्रधानाचार्यों को प्री-बोर्ड परीक्षा को लेकर जरूरी दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं.

 

यह भी पढ़ें :

Ankita Celebrates Archana : अपने किरदार अर्चना के लिए अंकिता लोखंडे ने शेयर की स्पेशल पोस्ट

Ipl Controversy दिल्ली कैपिटल्स और केकेआर के खिलाड़ियों में हुआ झगड़ा