नई दिल्ली। दिल्ली में लगातार बढ़ रहे कोरोना के मामलों की वजह से फिर से कई पाबंदिया लगनी शुरू हो चुकी हैं. बता दें कि हाल ही में हुई डीडीएमए की बैठक में मास्क को लगाना फिर से अनिवार्य कर दिया गया है. साथ ही स्कूलों को लेकर भी इस बैठक में चर्चा हुई थी कि जल्द ही एसओपी जारी की जाएगी.

स्कूलों में कवरंटाइन रुम आवश्यक

ताजा जानकारी के मुताबिक दिल्ली सरकार ने अब स्कूलों के लिए भी एसओपी जारी कर दी है. यानि की अब एसओपी के तहत ही स्कलों का संचालन किया जाएगा. एसओपी के अनुसार अब सभी स्कूलों में क्वारंटाइन रूम होना आवश्यक कर दिया गया है. साथ ही शिक्षक रोजाना छात्रों और उनके परिवार के सदस्यों में कोविड से संबंधित लक्षणों के बारे में पूछा जाएगा. अगर कोरोना से संबंधित कोई भी लक्षण मिलता है तो रोकथाम के लिए आगे कदम उठाया जाएगा.

कोरोना हुआ घातक

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि पिछले दिनों दिल्ली के कई स्कूलों में कोरोना के लक्षण बच्चों में पाए गए थे. जिस वजह से फिर से चिंताएं बढ़ने लगी थी. दिल्ली से सटे कई जिलों में भी कोरोना लगाताक पैर पसार रहा था.

बता दें कि दिल्ली में एक हफ्ते में कोरोना के मामलों में जबरदस्त उछाल देखने को मिला है. दिल्ली में कोरोना की संक्रमण दर 0.5 प्रतिशत से बढ़कर 2.70 प्रतिशत पहुंच गई है. वहीं गाजियाबाद में जयपुरिया स्कूल में 10 वीं का एक छात्र कोरोना से संक्रमित पाया गया था. जिसके बाद से स्कूल को अगले आदेश तक बंद कर दिया गया था. जनवरी से मार्च तक राजधानी में कोरोना से जान गंवाने वालों में 578 लोगों में से 560 की मौत का मुख्य कारण ओमिक्रोन वैरियंट है.

 

यह भी पढ़ें

जहांगीरपुरी में 2 हफ्ते तक नहीं चलेगा बुलडोजर, सुप्रीम कोर्ट ने लगाई रोक

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर