नई दिल्ली. लॉकडाउन के मद्देनजर सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (सीबीएसई) ऑनलाइन टीचर ट्रेनिंग प्रोग्राम्स लॉन्च करने की तैयारी में है. खास बात है कि यह सब कोर्सेज फ्री में मुहैया कराए जाएंगे यानी शिक्षकों से किसी भी तरह का पैसा नहीं लिया जाएगा. कोर्स के पूरा होने के बाद उम्मीदवार को एक E- सर्टिफिकेट दिया जाएगा. सीबीएसई ने आधिकारिक नोटिस में इस बात की जानकारी दी है.

जानकारी के मुताबिक, कोर्स में कई सारे सेशन होंगे और हर एक सेशन 1 घंटा लंबा होगा. एक दिन में ट्रेंनिंग के लिए 5 सेशन लेने होंगे. बोर्ड के अनुसार, मई महीने के लिए 1200 ऑनलाइन सेशन प्लान किए हैं. सीबीएसई का लक्ष्य है कि शिक्षक इस कोर्स को करके अपने पढ़ाने के तरीकों को पहले से और बेहतर करें, साथ ही साथ उनका ज्ञान और कौशल पहले से मजबूत हो.

देश में कोरोना वायरस से बचाव के लिए लॉकडाउन लगा है. इस दौरान शिक्षा संस्थानों को पूर्ण रूप से बंद कर दिया गया है जिसका अगले कुछ समय तक खुलने का कोई आसार नहीं है. ऐसे में सीबीएसई ने घर बैठे शिक्षकों की कौशलता बढ़ाने के लिए इस प्रोग्राम को लान्च करने की तैयारी की है.

बता दें कि सीबीएसई ने अप्रैल के तीसरे सप्ताह में शिक्षकों के लिए पायलट प्रोग्राम्स चलाए थे. बोर्ड की जानकारी के अनुसार, सीबीएसई के 15 सेंटरों से 500 से ज्यादा फ्री ऑनलाइन सेशन चलाए गए. देश के अलग अलग हिस्सों से करीब 35 हजार शिक्षकों ने इस प्रोग्राम में हिस्सा लिया.

UP Board Result 2020: यूपी बोर्ड कक्षा 10वीं और 12वीं की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन 5 मई से होगा शुरू, इस दिन जारी होगा रिजल्ट

CBSE Board Exam 2020: सीबीएसई ने कक्षा 10वीं और 12वीं एग्जाम 2020 पर दिया अपडेट, 29 विषयों की होगी परीक्षा