नई दिल्ली. देशभर में चल रही 10वीं और 12वीं कक्षा की केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड परिक्षाओं के बीच सीबीएसई ने जानकारी दी है कि साल 2019 से छात्रों को 10वीं कक्षा के लिए सर्टिफिकेट और मार्कशीट की जगह सिर्फ एक डॉक्युमेंट दिया जाएगा. यह डॉक्युमेंट यानी दस्तावेज सर्टिफिकेट के रूप में होगा. अभी तक 10वीं कक्षा को पास करने के बाद छात्रों को बोर्ड की ओर से मार्कशीट और पासिंग सर्टिफिकेट दिया जाता है. सरकार से मंजूरी मिलने के बाद सीबीएसई बोर्ड की परीक्षा कमिटी ने यह फैसला किया है.

सीबीएसई के एक सीनियर अधिकारी ने कहा कि 2019 से मार्कशीट और सर्टिफिकेट की जगह एक सिंगल सर्टिफिकेट दिया जाएगा. सीबीएसई अधिकारी ने आगे बताया कि इस दस्तावेज को एक प्रमाण पत्र के रूप में माना जाएगा और उम्मीदवारों को डुप्लिकेट प्राप्त करने के लिए बोर्ड की ओर से अधिसूचित आवश्यकताओं को पूरा करना होगा. हालांकि कक्षा 12वीं के छात्रों को पहले की तरह मार्कशीट और 1 परीक्षा सर्टिफिकेट जारी किया जाएगा.

सीबीएसई अधिकारी ने बताया कि अगर कोई छात्र किसी सब्जेक्ट में इंम्प्रूवमेंट एग्जाम के लिए बैठता है तो छात्र को अलग से कोई सर्टिफिकेट नहीं दिया जाएगा, बल्कि जितने नंबर आए उसकी एक अलग स्टेटमेंट छात्र को दी जाएगी.

सीबीएसई अधिकारी ने आगे कहा कि बोर्ड का यह भी फैसला है कि साल 2020 के शैक्षिक सत्र से कम्पार्टमेंट उम्मीदवारों को परीक्षा के लिए उपस्थित होने के लिए तीन मौके दिए जाएंगे, जबकि असफल होने वाले उम्मीदवारों को अगले साल परीक्षा में शामिल होने की अनुमति दी जाएगी और व्यावहारिक अंकों को आगे बढ़ाया जाएगा.

बता दें कि सीबीएसई ने 10वीं-12वीं कक्षा की परीक्षा की शुरुआत कर दी है. सीबीएसई सूत्रों का कहना है कि परीक्षा नतीजे 10 मई तक जारी कर दिए जाएंगे. सूत्रों के अनुसार, बोर्ड ने 20 अप्रैल तक परीक्षा पत्रों को मूल्यांकन और 10 मई तक परिणाम घोषित करने का फैसला किया है. हालांकि अभी तक यह जानकारी नहीं मिल पाई है कि 10वीं और 12वीं का रिजल्ट एक साथ जारी होगा या नहीं.

JEE Main April Admit Card 2019: जेईई मेन अप्रैल 2019 एडमिट कार्ड 20 मार्च को होगा जारी @jeemain.nic.in

Kendriya Vidyalaya Admission 2019: केंद्रीय विद्यालय प्रवेश फॉर्म भरने की आज अंतिम तारीख, जानें पूरी डिटेल्स @kvsonlineadmission.in