नई दिल्ली. ओडिशा की नवीन पटनायक सरकार ने राज्य के कर्मचारियों को बड़े तोहफे का ऐलान किया है. बीजेडी सरकार के अनुसार, राज्य के सरकारी कर्मचारियों को अब पहले से 5 फीसदी ज्यादा महंगाई भत्ता मिलेगा. इतना ही नहीं, साथ- साथ नवीन पटनायक सरकार अपने कर्मचारियों को सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों के तहत मिलने वाली बकाया राशि का 10 प्रतिशत हिस्सा देगी.

गौरतलब है कि राज्य नवीन पटनायक सरकार ने कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में 5 प्रतिशत की बढ़ोतरी की है. सरकार के इस फैसले से लाखों की तादाद में कर्मचारियों और पेंशनधारकों को लाभ जरूर पहुंचेगा. सरकार के सूत्रों की मानें तो जनवरी 2020 से यह फैसला लागू किया गया है. सरकार के इस कदम का 3.5 लाख मौजूदा कर्मचारी और 1.5 लाख पेंशनधारकों को बड़ी राहत मिलेगी.

जानिए क्या होता है महंगाई भत्ता

पब्लिक सेक्टर के कर्मचारियों, सरकारी कर्मचारियों और पेंशनधारकों को मिलने वाले एक वेतन के हिस्से को ही महंगाई भत्ता कहा जाता है. राज्य या केंद्र सरकार की ओर से यह भत्ता महंगाई बढ़ने की हालात में कर्मचारी को अपने जीवन को सुचारू रूप से चलाने के लिए दिया जाता है. आमतौर पर सरकारें साल में दो बार महंगाई भत्ते को बढ़ाती हैं.

महंगाई भत्ते की शुरुआत दूसरे विश्व युद्ध के दौरान हुई थी. जानकारी के अनुसार उस दौरान सिपाहियों को उनकी सैलेरी के अलावा खाने-पीने और अन्य सुविधाओं के लिए पैसे दिए जाते थे. भारत में इसकी शुरुआत साल 1972 में इंदिरा गांधी के कार्यकाल में हुई थी.

BPSC Bihar Government Jobs Calendar 2020: बिहार बीपीएससी 2020 वार्षिक कैलेंडर जारी, जानें कब आयोजित होगी कौन सी परीक्षा @bpsc.bih.nic.in

Horoscope Today Tuesday 25 February 2020 in Hindi: मकर राशि के लोगों को होगा प्रॉपर्टी में बंपर लाभ