लखनऊ. उत्तर प्रदेश में किसी के अच्छे दिन आयें या न आयें, लेकिन राज्य के शिक्षकों अच्छे दिन जरूर आने वाले हैं. दरअसल सीएम योगी आदित्यनाथ सरकार शिक्षकों को भी राज्यकर्मियों की तरफ से 7वें वेतनमान में शामिल करने पर विचार कर रही है. इस बात की जानकारी मंत्री कृष्ण प्रसाद वर्मा ने विधान परिषद् में दिया है. कृष्ण प्रसाद वर्मा ने विधान परिषद् में अपनी बातों को रखते हुए कहा कि सरकार शिक्षकों को 7वें और 8वें वेतन मान के तहत सैलरी देने पर विचार कर रही है, जल्द ही यह फैसला अमल में भी लिया जाएगा.

उत्तर प्रदेश में अभी शिक्षको को सैलरी 7वें वेतनमान के तहत 2.57 गुणक में दिया जाता है. अगर 8वां गुणक लागू होता है तो उन्हें 2.62 गुणक के आधार पर वेतन दिया जाएगा. बता दें, यूपी सरकार शिक्षकों को 7वें वेतनमान के तहत सैलरी दे रही है, लेकिन अभी उन्हें मूल क्रम में शामिल नहीं किया गया है. अगर सरकार द्वारा लेवल 7 और 8 में शामिल किया जाएगा तो उनकी सैलरी 30,000 रुपये से बढ़कर 45,000 हजार रुपये हो जाएगा.

आपको बता दें, उत्तर प्रदेश की प्राथमिक विद्यालयों में पढ़ाने वाले शिक्षकों की वर्तमान सैलरी 30,000 रुपये प्रति महीने के हिसाब से है. शिक्षक कई वर्षों से मूल क्रमक में शामिल होने की मांग कर रहे हैं. विधान परिषद् में अपनी बतों को रखते समय कृष्ण प्रसाद वर्मा ने कई अन्य बातों का भी जिग्र किया.

also read: RRB NTPC 2020 Admit Card Latest News: आरआरबी एनटीपीसी सीबीटी-1 एग्जाम डेट, एडमिट कार्ड, यात्रा पास लेटेस्ट अपडेट @rrbcdg.gov.in

उन्होंने कहा कि जल्द ही राज्य की सरकार स्कूलों में 2742 प्रहरी रखे जाएंगे. हालांकि इनको सिर्फ मानदेय वेतन ही दिया जाएगा. उन्होंने यह भी कहा जल्द ही सरकार द्वारा राज्य के अपग्रेड किये स्कूलों को पैसे भी आवंटित किये जाएंगे. रिपोर्ट्स की मानें स्कूलों में रखे जाने वाले प्रहरियों को 5,000 रुपये प्रति महीने के हिसाब से वेतन दिया जाएगा.

MHT CET 2020 Registration Last Date: महाराष्ट्र एमएचटी 2020 सीईटी रजिस्ट्रेशन की आखिरी तारीख कल 29 फरवरी, अप्लाई @cetcell.mahacet.org

SSC SI Result 2019: एसएससी एसआई 2019 पेपर-1 मार्क्स और फाइनल आंसर की जारी, डाउनलोड @ssc.nic.in

NVST PGT, TGT Interview Schedule: नवोदय विद्यालय संगठन पीजीटी, टीजीटी इंटरव्यू शेड्यूल जारी, जानें पूरी डिटेल्स और डॉक्यूमेंट्स लिस्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App