नई दिल्ली. 7th Pay Commission: पूरानी पेंशन स्कीम और 7वें वेतन आयोग के तहत भत्ते को लेकर कई राज्यों के कर्मचारी दिल्ली 3 दिसंबर को ही दिल्ली पहुंच चुके हैं और उन्होंने हुंकार रैली निकालते हुए जंतर मंतर पर जोरदार प्रदर्शन किया है. इसी के मद्देनजर सरकार के कैबिनेट सचिव ने सोमवार को इन्हें बातचीत के लिए बुलाया. इस दौरान कर्मचारियों को आश्वासन दिया गया कि पुरानी पेंशन स्कीम के लाभ के लिए कैबिनेट की अगली बैठक में रखा जाएगा. वहीं इस बैठक को कर्मचारी काफी सफल बैठक के रूप में देख रहे हैं और रैली की जीत के रूप देख रहे हैं.

संयुक्त प्लेटफार्म पब्लिक सर्विस इम्पलाइज फेडरेशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष वीपी मिश्रा ने कहा कि उनकी ये बैठक कामयाब रही है. उन्होंने बताया कि उन्हें आश्वासन दिया गया है कि भले ही पेंशन स्कीम का नाम न बदला जाए पर पुरानी पेंशन स्कीम के सभी लाभ कर्मचारियों को मिलेंगे. इसके अलावा कान्ट्रैक्ट पर रखे जा रहे कर्मचारियों को लेकर पॉलिसी बनाने की बात भी हुई है. मिश्रा ने कहा कि बैठक में 7वें वेतन आयोग के तह सभी तरह के भत्ते दिए जाने न्यूनतम वेतन बढ़ाया जाना व फिटमेंट फामूला में सुधार होना की बात भी तय हुई है.

बताते चलें कि उत्तर रेलवे मजदूर यूनियन ने 7वें वेतन आयोग के तहत अपनी मांगों को लेकर 3 से 10 दिसंबर के बीच भूख हड़ताल पर रहने की बात कही है. मंगलवार को भी सभी कर्मचारी दिल्ली मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय पर हड़ताल पर बैठे रहेंगे.

7th Pay Commission: महाराष्ट्र सरकार के 17 लाख सरकारी कर्मचारियों के लिए आई बड़ी खुशखबरी, जनवरी में बढ़ेगी सैलरी

7th Pay Commission: 3 दिसंबर से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाएंगे बीएसएनएल और एमटीएनएल के कर्मचारी

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App