7th Pay Commission: केंद् की नरेंद्र मोदी सरकार ने सातवें वेतन आयोग के तहत भारतीय रेलवे के हजारों कर्मचारियों की बड़ी सौगात दी है. दरअसल रेलवे भर्ती बोर्ड ने सातवें वेतनमान के तहत करीब 40 हजार स्टेशन मास्टर को प्रमोट करने का फैसला किया है. यह प्रमोशन सातवें वेतमान के लेवल 8 और लेवल 9 के पे मैट्रिक्स में प्रमोट किया गया है. इससे स्टेशन मास्टर की सैलरी में सीधे तौर पर 5500 रुपए का इजाफा हुआ है. क्योंकि लेवल 8 में बेसिक पे 47600 रुपए महीना है जबकि इससे ऊपर के लेवल में 53100 रुपए महीना है. इस प्रमोशन का फायदा रिटायर हो चुके स्टेशन मास्टरों को भी मिलेगा.

बता दें कि प्रमोशन पाने वाले स्टेशन मास्टरों को गजटेड अफसर का दर्जा मिल जाएगा. साथ ही वे असिस्टेंट ऑपरेशन मैनेजर की पोस्ट पर प्रमोट किए गए हैं. यह प्रमोशन 2018 से दिया गया है. रेलवे बोर्ड ने सभी रेलवे जोन को इसका आदेश जारी कर दिया है. रेलवे बोर्ड से मंजूरी मिलने के बाद सातवें वेतन आयोग की उपनिदेशक सुधा ए. कुजर ने इसका आदेश जारी किया है. भारतीय रेलवे ने बीत साल ही अपने कर्मचारियों को अच्छी सौगात दी थी.

हाल ही में केबिनेट सचिव ने रेल मंत्रालय को ऐसा करने की सलाह दी थी. इस फैसले से रेलवे के हजारों कर्मचारियों को फायदा तय था. खासकर उन कर्मचारियों को जिनका प्रमोशन सिर्फ गुड ग्रेडिंग के कारण रुका है. अब उसे Very Good श्रेणी मे प्रमोशन दिया गया है. स्टेशन मास्टरों का प्रमोशन भी इसी तर्ज पर हुआ है. पहले 10, 20 और 30 साल पर कर्मचारियों को प्रमोशन अपने आप मिलता था.

इसके साथ ही केंद्रीय कर्मचारियों को सातवें वेतमान के तहत बेसिक सैलरी में बढ़ोतरी की सौगात भी बहुत जल्द मिलने वाली है. दरअसल मोदी सरकार जल्द ही केंद्रीय कर्मचारियों की बेसिक सैलरी में 8000 प्रति महीने की बढ़ोतरी होगी. मौजूदा वक्त में केंद्रीय कर्मचारियों को 18000 प्रति महीने की बेसिक सैलरी मिलती है. इसके साथ ही सरकार कर्मचारियों के फिटमेंट फैक्टर में भी बढ़ोतरी कर सकती है.

NEET PG 2020 Counselling Postponed: कोरोना वायरस के चलते नीट पीजी 2020 काउंसलिंग स्थगित, mcc.nic.in पर जानें सारी जानकारी

7th Pay Commission: 7th पे के तहत नरेंद्र मोदी सरकार कर सकती है ये 5 बड़े फैसले, केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी में होगा बंपर इजाफा