नई दिल्ली : विश्वस्तर की सबसे बडी टेक्नोलॉजी कंपनी माइक्रोसॉफ्ट जल्द ही बड़े पैमाने पर एक बड़ा फैसला लेने वाली है, कंपनी 3000 कर्मचारियों की छुट्टी करने जा रही है. भारतीय मूल के सत्या नडेला के नेतृत्व में कंपनी के पुनर्गठन के तहत होने वाली इस छंटनी में सेल्स डिपॉर्टमेंट में काम कर रहे लोगों पर सबसे ज्यादा असर पड़ेगा.
 
बता दें कि ये सभी लोग यूएसए से बाहर काम करते हैं, हालांकि यूएस में काम करने वाले लोगों पर अभी इसका असर नहीं पड़ा है. माइक्रोसॉफ्ट ने कहा है कि वह कंपनी इस डिपार्टमेंट में कुछ जरूरी बदलाव करने जा रही है जिससे वह अपने उपभोक्ताओं और भागीदारों के बेहतर सेवा मुहैया करा सके.
 
 
मीडिया रिर्पोट्स के अनुसार माइक्रोसॉफ्ट के विश्व में करीब 1,21,000 तो वही अमेरिका में 71,000 कर्मचारी काम करते हैं. कंपनी का कहना है कि ज्यादातर अमेरिका के बहार से जॉब कट की जाएगी. देश की तीसरी सबसे बडी साफ्टवेयर कंपनी विप्रो ने भी अप्रैल माह में लगभग 600 कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखाया था.
 
इसके बाद 5वीं सबसे बड़ी कंपनी महिंद्रा कंपनी ने भी कर्मचारियों की छंटनी की थी. कंपनी का कहना था कि हर साल खराब प्रदर्शन करने वाले कर्मचारियों की छंटनी की जाती है और इस साल भी ऐसा ही होगा.