Tuesday, December 6, 2022

12वीं बाद मोबाइल, इंटरनेट व टेलीकॉम सेक्टर में बनाए अपना करियर, जानिए कैसे?

Telecom Sector: देश व दुनिया में मोबाइल व इंटरनेट का ऐसा दौर है कि वर्तमान समय में यह टेलीकॉम सेक्टर शासन कर रहा है. नौकरी के इच्छुक उम्मीदवारों के लिए टेलीकॉम सेक्टर में भविष्य बनाना भी एक अच्छा अवसर साबित हो सकता है. 12वीं के बाद आप भी टेलीकॉम सेक्‍टर में कार्य कर सकते हैं. टेलीकॉम सेक्टर में हुए विस्तार को मद्दे नजर रखते हुए कई विश्वविद्यालय व संस्थान इससे संबन्धित कोर्स आयोजित करते हैं. इन कोर्सेज को करने के बाद युवाओं को इस क्षेत्र में आसानी से नौकरियां मिल जाती हैं. ख़बरों के अनुसार जल्द ही मोबाइल इस्तेमाल करने वालों की संख्या एक अरब से अधिक हो जाएगी।

 

योग्यता व कोर्स (Academy Qualification and Course) :

आप टेलीकम्‍युनिकेशन इंजीनियरिंग का कोर्स करके टेलीकॉम सेक्‍टर में अपना भविष्य बना सकते हैं. इसके लिए आपका 12वीं में सब्जेक्ट के तौर अपर PCM किया हुआ होना जरूरी है. साथ ही आपको अच्‍छे कॉलेज से इंजीनियरिंग करने के लिए आईआईटी ज्‍वाइंट एंट्रेंस एग्‍जाम ( IIT Joint Entrance Examinations) क्लियर करना होता है. पोस्‍ट ग्रेजुएशन के लिए आपको मान्यता प्राप्त कॉलेज से टेलीकम्‍युनिकेशन में बीटेक डिग्री होनी जरूरी है.

 

 

डिप्‍लोमा का भी विकल्‍प

 

टेलीकम्‍युनिकेशन इंजीनियर बनने के लिए आप Associate Membership of Institute of Electronics and Telecommunication Engineers, AMIETE (असोसिएट मेम्‍बरशिप ऑफ इंस्टिट्यूट ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड टेलीकम्‍युनिकेशन इंजीनियर्स) और Institute of Electronics and Telecommunication Engineers, DIPIETE (डिप्‍लोमा प्रोग्राम के लिए इंस्टिट्यूट ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड टेलीकम्‍युनिकेशन इंजीनियर्स) से डिप्‍लोमा भी कर सकते हैं.

 

क्‍या होता है कोर्स में ?

टेलीकम्‍युनिकेशन इंजीनियरिंग
मोबाइल टेलीफोनी,
वायरलेस कम्‍युनिकेशन,
इंटरनेट प्रोटोकॉल मीडिया सिस्‍टम,
जीएसएम,
आर्किटेक्‍चर जीपीआरएस नेटवर्क,
सीडीएमए,
वॉयस ओवर इंटरनेट प्रोटोकॉल कोर्सेज में एनालॉग
डिजिटल कम्युनिकेशन,
मल्टीमीडिया एवं डाटा कम्युनिकेशन,
नेटवर्किंग,
ऑप्टिकल कम्युनिकेशन,
मॉड्यूलेशन टेक्निक्स

 

जॉब के अवसर 

 

टेलीकम्‍युनिकेशन इंजीनियर्स,
ब्रॉडकास्टिंग सेक्‍टर,
इलेक्ट्रॉनिक्स एंड मॉस कम्‍युनिकेशन सेक्‍टर,
संचार मंत्रालय,
ऑल इंडिया रेडियो,
डीडी न्‍यूज,
रेलवे,
पुलिस,
बीएसएफ,
सीआरपीएफ
समेत अन्‍य गर्वमेंट विभागों
रिसर्च असिस्टेंट,
रिसर्च एसोसिएट
साइंटिस्ट,
प्रोजेक्ट मैनेजर,
सिस्टम इंजीनियर,
जूनियर इंजीनियर,
ऑपरेशन हेड

 

आप अपने अनुभव के आधार पर लाखों में सैलरी हासिल कर सकते हैं.

 

 

 

यह भी पढ़ें

 

Relationship: क्या है तलाक-ए-हसन? जानिए इस्लाम में कितने तरीके के होते हैं तलाक

 

मनीष सिसोदिया का दावा! बीजेपी ने मेरे खिलाफ सभी सीबीआई, ईडी मामलों को बंद करने की रखी पेशकश

 

Latest news