नई दिल्ली: बच्चों को बेहतर शिक्षा मिल सके ये बात तो हम सभी करते हैं लेकिन उस शिक्षा की किमत क्या हो, स्कूलों की मनमानी हो फीस वसूलने में इन सब को लेकर इंडिया न्यूज लगातार मुहिम चला रहा है. इंडिया न्यूज़ की मुहिम का बड़ा असर भी देखने को मिला है. सीएम योगी ने बैठक में कहा है कि शिक्षा माफिया जनपद छोड़ें या सुधर जाएं. योगी सरकार ने लखनऊ के स्कूलों के लिए सिटिज़न चार्टर जारी किया है. 
 
योगी सरकार ने 51 राजकीय,101 सहायता प्राप्त,123 CBSE स्कूलों पर कार्रवाई की है. मनमानी स्कूल फ़ीस वसूली पर रोक लगाने का फैसला भी सुनाया. अब सरकार जो शुल्क निर्धारित करेगी स्कूल वही वसूल सकते हैं. फीस स्ट्रक्चर को जस्टिफाई करना होगा. ऐसा न होने पर स्कूलों में छापेमारी होगी. स्कूल टीचर्स का वेतन और सुविधाओं को जोड़कर बच्चों की संख्या से भाग दे और उस हिसाब से स्कूल फीस लेंगे.
 
इंडिया न्यूज की मुहिम के बाद किताब कॉपी,स्टेशनरी की स्कूल परिसर में खरीद नहीं होगी वरना मुकदमा दर्ज होगा. मार्कशीट या टीसी देने के नाम पर धन उगाही होगी तो मुकदमा दर्ज होगा. प्राइवेट पब्लिशर की किताब बेचने पर कार्रवाई होगी. रिएडमिशन का कोई चार्ज नहीं होगा. मनमानी करने वाली निजी स्कूल प्रबंधन पर FIR होगी. 
 
(वीडियो में देखें पूरा शो)
SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर