नई दिल्ली. उत्तराखंड का राजनीतिक भविष्य क्या होगा यह सवाल इसलिए उठ रहा है क्योंकि केन्द्र की सिफारिश पर अब वहां राष्ट्रपति शासन लागू हो गया है. उत्तराखंड में सालभर बाद विधानसभा चुनाव होने थे लेकिन कांग्रेस विधायकों की बगावत के बाद हरीश रावत सरकार अल्पमत में आ गई.
 
हालांकि विधानसभा अध्यक्ष ने सभी 9 बागी विधायकों की सदस्यता रद्द करके कांग्रेस की मुश्किल आसान करने की कोशिश जरूर की पर स्टिंग ऑपरेशन के तूफान ने हरीश रावत सरकार के लिए मुसीबत खड़ा कर दिया है. अब कांग्रेस केन्द्र सरकार पर लोकतंत्र की हत्या का आरोप लगा रही है जबकि बीजेपी इस फैसले को सही ठहरा रही है.  
 
इंडिया न्यूज के खास शो ‘जन गण मन’ में आज इसी अहम मुद्दे पर होगी चर्चा कि उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन लगाने का फैसला कितना सही है?
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा शो

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App