WHO on Covid:

नई दिल्ली, WHO on Covid: वैश्विक महामारी कोरोना वायरस ने सभी को घुटनों पर ला दिया है, इस महामारी के अंत पर अलग-अलग स्टडीज़ होती रहती हैं लेकिन कहीं भी इस बात की कोई पुष्टि नहीं है कि यह महामारी पूरी तरह से चली जाएगी. वहीं, कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन पर बात करते हुए WHO ने चेताया है कि ओमिक्रॉन आखिरी वैरिएंट नहीं है, इसके बाद भी कोरोना के कई वैरिएंट्स सामने आते रहेंगे.

स्थिति ऐसे ही चलती रही तो आ सकते हैं नए वैरिएंट्स- WHO महानिदेशक

सोमवार को विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के महानिदेशक टेड्रोस अदनोम गेब्रेयसस (Tedros Adhanom Ghebreyesus) ने चेताया कि पूरी दुनिया में अभी जैसी परिस्थितियां हैं, वो ज्यादा से ज्यादा नए वेरिएंट्स को जन्म देने में सक्षम है. उन्होंने आगे कहा कि ओमिक्रॉन के आने के बाद दुनिया भर में कोविड 19 के केसेज़ में भारी बढ़ोतरी देखने को मिली है, यह केसेज़ 2020 में आए केसेज़ से भी ज्यादा है. ओमिक्रॉन कोरोना का आखिरी वैरिएंट नहीं है, ओमिक्रॉन के बाद भी देश में कई ऐसे वैरिएंट आते रहेंगे. हालाँकि, टेड्रोस अदनोम गेब्रेयसस ने आगे आश्वासन देते हुए कहा कि अगर वैश्विक स्वास्थ्य एजेंसी और तमाम देश मिलकर सही रणनीति के साथ आगे बढ़ें तो इस महामारी का खतरा इस साल में ही खत्म हो सकता है.

70 फीसदी वैक्सीनेशन की ज़रूरत

टेड्रोस ने आगे कहा कि दुनिया से इस महामारी को खत्म करने के लिए सही रणनीति के साथ सभी देशों को अपने 70 फीसदी आबादी को वैक्सीनेट करने की ज़रूरत है, इस आबादी में स्वास्थ्यकर्मियों, बुज़ुर्गो और बीमार लोगों को वैक्सीनेट किया जाना बेहद ज़रूरी है.

 

यह भी पढ़ें:

Bihar Tourism Minister’s son opens fire : बिहार में मंत्री के बेटे ने बगीचे में क्रिकेट खेल रहे बच्चों पर चलाई गोली, भीड़ ने कर दी पिटाई

SHARE