Wednesday, February 1, 2023
spot_img

लखनऊ: स्मार्टफोन तो बहुत चला लिया अब स्मार्ट जूतों की बारी है!    

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के गोरखपुर शहर के एक इंजीनियरिंग कॉलेज के छात्रों ने इंसान की ज़रुरतों को देखते हुए एक अजीबोग़रीब चीज़ इजाद की है, हम सभी लोगों की ज़िंदगी में स्मार्टफोन की बड़ी सख़्त ज़रुरत होती है, चाहे ऑनलाईन खाना ऑर्डर करना हो या सफ़र के लिए कैब बुक करना हो, हर काम के लिए हमें स्मार्टफोन की ज़रुरत होती है।

स्मार्ट जूतों की ज़रुरत क्या है?

इन सब सहूलियतों के बावजूद हमारा स्मार्टफोन ऐसे कई काम है जो नहीं कर सकता, ऐसी ही कमियों को पूरा करने के लिए गोरखपुर के इंजिनियरिंग के छात्रों ने बनाया है एक ऐसा जूता जो कि आपको जीपाएस ट्रैकर की सहूलियत देगा, आपके हार्टबीट को सेंसर के ज़रिये पढ़कर आपके जिस्म की परेशानियों से आपको आगाह करेगा, आपका तापमान बताएगा इसके साथ इन जूतों में जीएसएम सिम कार्ड जैसी तकनीकी भी शामिल है।

रोज़मर्रा की ज़िंदगी में इस उपकरण के फ़ायदे क्या हैं?

हमारी रोज़मर्रा की ज़िंदगी में हमेशा से ऐसी ही किसी तकनीकी की ज़रुरत थी, जिससे की हम अपनी सेहत का ख़याल रख सकें और इसका इस्तेमाल आसान हो। इस उपकरण की मदद से हम छोटे बच्चों के रियल टाईम लोकेशन यानि की उनके सटीक ठिकाने का पता लगा सकते हैं। हम भूकंप या किसी और प्राकृतिक आपदा के दौरान इस उपकरण का इस्तेमाल इंसानों को खोजने के लिए कर सकते हैं। पहाड़ों पर हिमस्खलन के दौरान भी इसका इस्तेमाल बख़ूबी किया जा सकता है।

आज के दौर में इसका सबसे सटीक इस्तेमाल क्या है?

इस उपकरण को बनाने वाले छात्र आदित्य का कहना है कि अगर हम किसी भी मुश्किल वक़्त में इसके इस्तेमाल से पैनिक सिचुएशन सिग्नल देकर पुलिस या फिर अपने परिवार वालों को आगाह कर सकते हैं कि हम किसी परेशानी में हैं। इस मशीन में ऐसी तकनीकी का इस्तेमाल किया गया है कि जब भी कभी बमारे पैर ठंडे हों तो ये मशीन समझ जाएगी की हम किसी ख़तरे में हैं।

Russia-Ukraine War: पीएम मोदी ने पुतिन को ऐसा क्या कह दिया कि गदगद हो गया अमेरिका

Raju Srivastava: अपने पीछे इतने करोड़ की संपत्ति छोड़ गए कॉमेडी किंग राजू श्रीवास्तव

Latest news