NEET PG Counselling:

नई दिल्ली. NEET PG Counselling: NEET PG काउंसलिंग 2021 को लेकर हो रहा प्रदर्शन अब और तेज़ हो गया है. देश के तमाम राज्यों में रेजिडेंट्स डॉक्टर्स लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं. इसी बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मान्डविया ने Federation of Resident Doctors’ Association (FORDA) के प्रतिनिधियों से बातचीत की लेकिन इससे भी कोई हल नहीं निकला और अभी भी रेजिडेंट डॉक्टर्स प्रदर्शन जारी रखे हुए हैं.

डॉक्टर्स के साथ हुई बदसलूकी: FORDA

देश में बीते कुछ समय से हो NEET PG काउंसलिंग 2021 को लेकर रेजिडेंट डॉक्टर्स का प्रदर्शन जोर पकड़ रहा है. बता दें कि रेजिडेंट्स डॉक्टर्स FORDA बैनर के तले प्रदर्शन पर बने हुए हैं. दिल्ली में हो रहा प्रदर्शन सोमवार को एका-एक तेज़ हो गया. दरअसल, रेजिडेंट्स डॉक्टर्स ने कल अपने प्रदर्शन को आगे बढ़ाते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया के घर की ओर मार्च किया. जिसमें पुलिसकर्मियों ने कुछ प्रदर्शन कर रहे डॉक्टर्स को हिरासत में ले लिया. ऐसे में प्रदर्शन कर रहे डॉक्टर्स आक्रोशित हो गए. और इस पर FORDA का कहना है कि पुलिस ने डॉक्टर्स के साथ बदसलूकी की है.

मनसुख मांडविया ने बुलाई थी आपातकालीन बैठक

FORDA के बढ़ते प्रदर्शन और सोमवार को पुलिसकर्मियों और डॉक्टर्स के बीच हुई झड़प को देखते हुए बीते दिन केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने FORDA के प्रतिनिधियों को आपातकालीन बैठक के लिए बुलाया लेकिन इस बैठक से बात बनती नहीं दिखी और प्रदर्शन कर रहे डॉक्टर्स ने प्रदर्शन आगे भी जारी रखने की बात कही है.

FORDA प्रतिनिधियों ने रखी दो मांगे

– सोमवार को दिल्ली पुलिस ने प्रदर्शनकारी डॉक्टरों के साथ कथित तौर से मारपीट की, उसके लिए लिखित माफी मांगी जाए.
– NEET PG 2021 की काउंसलिंग और प्रवेश प्रक्रिया में तेजी लाई जाएगी, इसके लिए लिखित आश्वासन दिया जाए. इसके साथ ही NEET PG 2021 से जुड़े मामले को सुप्रीम कोर्ट में जल्द से जल्द निपटाया जाया.

यह भी पढ़ें:

Petrol-Diesel price in Jharkhand: ‘झारखंड में सस्ता हुआ पेट्रोल-डीज़ल, मुख्यमंत्री ने किया ऐलान

Amit Shah in Gujrat : अमित शाह अपने संसदीय क्षेत्र को देंगे 49 करोड़ की सौगात

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर