नई दिल्ली. Omicron शभर में कोरोना के नए वैरिएंट से हड़कंप मचा हुआ हैं. ब्रिटेन में कोरोना के नए वैरिएंट के 22 मामलों की पुष्टि हुई हैं. ब्रिटेन अभी हालंही में कोरोना के पुराने वैरिएंट के कहर से उभरा था कि एकबार फिर वहां मौजूद लोगो के लिए परेशानियां खड़ी हो गई है. ब्रिटिश हेल्थ मिनिस्टर साजिद जावेद ने बताया कि नए वैरिएंट के मामलों की संख्या अभी और बढ़ सकती है. उन्होंने बताया कि स्वास्थकर्मी इस नए वैरिएंट के असर का पता लगा रहे है, ओमिक्रोन से बचने के लिए अभी फिलाहल कोरोना की वैक्सीन ही एकमात्र उपाय है.

जापान में बूस्टर डोज़ की तैयारी

इस बीच जापान में भी ओमिक्रोन के मामले मिलने से प्रशासन ने सख्ती बड़ा दी है. जापान में बूस्टर डोज दिए जाने का फैसला लिया गया है. फिलहाल बूस्टर डोज सिर्फ स्वास्थकर्मियों को दी जाएगी। जापान में कोरोना वैक्सीनेशन की शुरुआत फ़रवरी में हुई थी और करीब 9 महीने बाद जापान में अब बूस्टर डोज की तैयारी की जा रही है. आपको बता दें जापान में ओमिक्रोन की पुष्टि होने के बाद जापान ने अपनी सीमाओं को बंद कर दिया है और इंटरनेशनल ट्रेवल पर भी बैन लगा दिया है.

भारत में वैरिएंट के खिलाफ व्यापक इंतजाम

भारत के लिए अभी इस नए वैरिएंट से राहत की खबर है. भारत में नए वैरिएंट का एक भी मामला नहीं मिला है. इस वैरिएंट के खिलाफ देश में सभी व्यापक इंतेज़ाम कर लिए गए है. अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों पर 15 दिसंबर के बाद भी रोक जारी रहेगी। देश के अधिकतर राज्यों ने इस नए वैरिएंट के खिलाफ स्वतंत्र इंतेज़ाम और अपनी सीमाओं पर टेस्टिंग प्रक्रिया शुरू कर दी है.

यह भी पढ़ें: 

Corona Review Meeting: कोरोना और टीकाकरण पर शीर्ष अधिकारियों के साथ पीएम मोदी की बैठक, नए वैरिएंट ने बढ़ाई चिंता

World AIDS Day एड्स का अब तक नहीं मिला इलाज, करोड़ों पीड़ित, लाखों मौतें