नई दिल्ली. India’s COVID-19 vaccination certificate कोरोना के उतार-चढाव के बीच अच्छी खबर है अमेरिका और ब्रिटेन के साथ-साथ अब पांच और देशों ने भारतीय वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट को मान्यता दे दी है. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने ट्वीट किया कि पांच और देशों ने भारत के टीकाकरण प्रमाण पत्र को मान्यता दे दिया है. मान्यता देने वाले देशों में एस्टोनिया, किर्गिस्तान फिलिस्तीन, मॉरिशस, और मंगोलिया शामिल हैं। इन देशों में भारत में वैक्सीनेशन के बाद यात्रा कर सकेंगे.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने ट्वीट कर दी जानकारी

भारतीय विदेश मंत्रालय का कहना है कि पांच और देशों ने भारत के टीकाकरण प्रमाण पत्र को मान्यता दे दी है. बता दें की इन देशों में एस्टोनिया, किर्गिस्तान, फिलिस्तीन, मॉरीशस और मंगोलिया शामिल हैं. ये जानकारी भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने ट्वीट करके दी. वहीं इस वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट के साथ ही अब 35 देशों की यात्रा आसान हो गई है.

30 से अधिक देश भारतीय वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट को दे चुके हैं मान्यता

एस्टोनिया, किर्गिस्तान, फिलिस्तीन, मॉरीशस और मंगोलिया के अलावा आस्ट्रेलियाई सरकार ने भारत बायोटेक की कोरोना वैक्सीन कोवैक्सीन को मान्यता दे दी है. भारत में आस्ट्रेलिया के उच्चायुक्त बैरी ओ’फेरेल एओ ने इसकी जानकारी दी है. उनके मुताबिक, आस्ट्रेलियाई सरकार ने यात्रियों के टीकाकरण स्टेटस के उद्देश्य से भारत बायोटेक की कोवैक्सीन को मान्यता दे दी है. बता दें कि आस्ट्रेलिया और पांच अन्य देशों के अलावा दुनिया के 30 से अधिक देशों से भारत के वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट को मान्यता दी है। इन देशों में जर्मनी, फ्रांस, नेपाल, बेलारूस, आर्मेनिया, लेबनान, यूक्रेन, बेल्जियम, हंगरी और सर्बिया शामिल हैं

यह भी पढ़ें:

Internet Shutdown in Rajasthan: राजस्‍थान पटवारी भर्ती परीक्षा के चलते बंद रहेगी इंटरनेट सेवा, जानिए परीक्षा से जुड़ी बड़ी अपडेट

Congress starts membership drive before corporation elections in Delhi : दिल्ली में निगम चुनाव से पहले कांग्रेस ने सदस्यता अभियान किया शुरू

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर