नई दिल्ली, Cricket news : टी-20 विश्व कप में निश्चित रूप से भारतीय टीम का प्रदर्शन इस बार निराशजनक रहा. भारतीय टीम टॉप-12 से आगे क्वालीफाई नहीं कर पाई और विश्व कप से बहार हो गई. इसके साथ इस टूर्नामेंट में भारतीय टीम की विदाई के साथ टीम के हेड कोच रवि शास्त्री का कार्यकाल भी समाप्त हो गया. वहीं, बतौर कप्तान विराट कोहली के लिए यह टूर्नामेंट आखिरी साबित हुआ.

रवि शास्त्री ने कोहली को सर्वकालिक महानतम खिलाड़ियों में से एक बताया 

टीम के हेड कोच के रूप में रहे रवि शास्त्री ने विराट कोहली की प्रशंसा करते हुए कहा कि वे अगले 6-7 और क्रिकेट खेल सकते हैं. कि उन्हें बाहरी चीजों को इग्नोर करने की आदत हो गई है. साथ ही, रवि शास्त्री को इसमें कोई संदेह नहीं है कि कोहली सर्वकालिक महानतम खिलाड़ियों में से एक हैं. उन्होंने आगे कहा वह एक कप्तान के रूप में अपने हक का हकदार है, उन्होंने जो हासिल किया है वह अविश्वसनीय है. बतौर खिलाड़ी यदि आप बाहरी चीजों को इग्नोर को करते हैं, तो आप लंबे समय तक खेल सकते हैं.

ऐसी चीजों को इग्नोर करना शानदार है. अगर वह ऐसा करते रहेंगे और मुझे लगता है कि वह कर रहे है तो उन्हें अगले 6-7 सालों तक खेलने में कोई समस्या नहीं होगी. इस बारे में कोई सवाल ही नहीं है कि कोहली एक सर्वकालिक महान खिलाड़ी हैं. ऐसे बहुत कम खिलाड़ी हैं जो अपने जीवनकाल में महान खिलाड़ी बनते हैं और वह तीन साल पहले ही बन गए हैं. वह सफलता का आनंद ले रहे हैं. अगर उनके शरीर और दिमाग को किसी स्टेज पर ब्रेक मिलता है तो यह बहुत अच्छा होगा.

न्यूज़ीलैंड के खिलाफ सीरीज़ में राहुल द्रविड़ होंगे हेड कोच

भारतीय टीम 17 नवम्बर से न्यूज़ीलैंड के खिलाफ टी-20 सीरीज़ खेलने वाला है. ऐसे में रवि शास्त्री के बाद अब टीम के मुख्य कोच के रूप में राहुल द्रविड़ होंगे. बता दें कि जहाँ टी-20 सीरीज़ में रोहित शर्मा टीम की अगुवाई करंगे वहीँ टेस्ट सीरीज़ में अजिंक्य रहाणे टीम की कमान संभालेंगे. वहीं, विराट कोहली दुसरे टेस्ट मैथ से बतौर कप्तान टीम में शामिल होंगे.

 

यह भी पढ़ें :

Bhabhi ji Ghar par hain: पुरानी अंगूरी भाभी ‘शिल्पा शिंदे’ ने क्यों मांगी भभूति जी से माफी ?

Akhil Bhartiya Rajbhasha Sammelan हमें राजभाषा को मजबूत करने की जरूरत : शाह

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर