नई दिल्ली, तमिलनाडु में हुए हेलीकॉप्टर क्रैश में देश ने अपना वीर सपूत खो दिया. इस हादसे में देश के पहले CDS जनरल बिपिन रावत का निधन हो गया जिसके चलते आज पूरा देश शोकाकुल है. देश की राजधानी से भी हज़ार कीलोमीटर दूर पाकिस्तान सीमा से सटी LOC की सीमा पर भी CDS के निधन का शोक मनाया जा रहा है. बीते दिन यहाँ भी कुपवाड़ा, मछाल, बारामूला, लगभग सभी जगह जनरल रावत के निधन के लिए दुख के बोल सुनाई दिए.

CDS के रूप में माछाल के लोगों का दोस्त चला गया

जनरल बिपिन रावत के निधन के बाद जहाँ पूरा देश आज शोक में डूबा है वहीँ पाकिस्तानी सीमा से सटी लाइन ऑफ कंट्रोल (LOC) पर लोगों को CDS के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए देखा गया. बीते दिन कुपवाड़ा, मछाल, बारामूला लगभग इन सभी जगह CDS के निधन पर दुःख के बोल सुनाई दिए. यहाँ के लोगों का कहना था कि देश के लिए भले ही उनका CDS चला गया हो लेकिन, उनके लिए तो उनका पुराना दोस्त चला गया.

जमा देने वाली ठण्ड में किया कैंडल मार्च

CDS जनरल रावत के निधन पर कुपवाड़ा, मछाल, बारामूला के लोगों ने शोक व्यक्त करते हुए जमा देने वाले माइनस टेंपरेचर की ठण्ड में सड़कों पर अपने पुराने दोस्त जनरल रावत के निधन पर कैंडल मार्च निकाला लोगों ने शोक सभाओं के लिए जमा होकर और और जनरल रावत की तस्वीरों के आगे मोमबत्तियां जलाकर उनके निधन पर शोक जताया. इसके अलावा यहाँ के लोगों ने कैंडल मार्च निकालने के दौरान जनरल रावत की पत्नी मधुलिका रावत और हेलिकॉप्टर क्रैश में उनके साथ जान गंवाने वाले 11 अन्य सैन्य अधिकारियों के लिए भी अपना शोक और दुख व्यक्त किया.

SHARE