Saturday, August 13, 2022

Paytm Q2 Results: दूसरी तिमाही में पेटीएम के राजस्व में 64 फीसदी का इजाफा

नई दिल्ली.  पेटीएम के शेयरों की हाल ही में बाजार में लिस्टिंग हुई है. जिसके बाद कंपनी ने आज अपने तिमाही नतीजे जारी किए हैं. इसके बाद डिजिटल पेमेंट और फाइनेंशियल सर्विसेज प्लेटफॉर्म के राजस्व में 64 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है. यही वजह है की अब पेटीएम कंपनी का राजस्व बढ़कर 10.9 बिलियन हो गया है. इसके अलावा नॉन-यूपीआई पेमेंट वॉल्यूम में भी 52 फीसदी की वृद्धि हुई है.

 

वित्तीय वर्ष 2022 की तिमाही के आंकड़ों पर एक नज़र

पेटीएम की पैरेंट कंपनी वन 97 कम्यूनिकेशंस लिमिटेड ने 30 सितंबर 2021 की तिमाही और छमाही के वित्तीय नतीजे एक बार फिर से जारी किया है. वित्तीय वर्ष 2022 की तिमाही के आंकड़ों पर नज़र डालें तो गैर-यूपीआई जीएमवी में कुल 52 प्रतिशत की वद्धि के साथ वित्त वर्ष 2022 की दूसरी तिमाही में परिचालन राजस्व सालाना आधार पर 64 प्रतिशत बढ़कर 10.9 बिलियन रुपए हो गया था. वित्त वर्ष 2022 की दूसरी तिमाही में 2.6 बिलयन रुपए का योगदान लाभ, जो सालाना आधार पर 592 प्रतिशत से अधिक है. बात इसमें आई तेज़ी की तो यह कर्ज, विज्ञापन और कमर्शियल सर्विसेज जैसे बड़े माजिर्न के तहत बड़े वितरण आधार के मुद्रीकरण के रूप में देखा गया. बात अप्रत्यक्ष राजस्व की करें तो इसमें ईएसओपी को छोड़कर राजस्व के प्रतिशत के रूप में वित्तीय वर्ष 2021 की दूसरी तिमाही में राजस्व 70 प्रतिशत से कम होकर वित्तीय वर्ष 2022 की दूसरी तिमाही में 63 प्रतिशत रह गया.

पेटीएम ने पहली बार अपनी कमाई को किया सार्वजनिक

पिछले साल की समान तिमाही की चर्चा करें तो यह 663.90 करोड़ रुपये रहा था. रेवेन्यू में नॉन-यूपीआई पेमेंट वॉल्यूम में 52 फीसदी की ग्रोथ और वित्तीय सेवाओं और दूसरे रेवेन्यू में तीन गुना से ज्यादा की ग्रोथ हुई थी. बता दें कि यह पहली बार है कि पेटीएम ने पिछले महीने हुई लिस्टिंग के बाद पेटीएम ने अपनी कमाई का सार्वजनिक रूप से खुलासा किया हो. पेटीएम ने बीएसई फाइलिंग में कहा कि पेमेंट्स और वित्तीय सेवाओं से उसका रेवेन्यू सालाना आधार पर 69 फीसदी बढ़कर 842.60 करोड़ रुपये पर पहुंच गया. जबकि, कमर्शियल एन्ड क्लाउड सर्विसेज से रेवेन्यू सालाना आधार पर 47 फीसदी के उछाल के साथ 243.80 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है.

Latest news