नई दिल्ली. खबर किसान आंदोलन से जुडी है, जिसको लेकर आज किसानों की महापंचायत होनी है. वहीँ, लगाई जा रही है कि आज आंदोलन को लेकर कोई बड़ा फैसला हो सकता है. बता दें कि बीते दिनों केंद्र ने MSP एवं अन्य मुद्दों पर आगे की चर्चा के लिए संयुक्त किसान मोर्चा से पांच नाम मांगे थे. इसपर बाद में संयुक्त किसान मोर्चा ने कहा था कि उसके नेताओं को केंद्र से इस मामले पर फोन आए थे लेकिन अब तक कोई औपचारिक सन्देश नहीं मिला है.

आज होगी किसानों की अहम बैठक

किसान आंदोलन से जुड़ी आज एक अहम बैठक होने जा रही है. जहाँ, कयास लगाए जा रहे हैं. कि आंदोलन से जुड़ा कोई बड़ा फैसला सामने आ सकता है. बता दें कि यह बैठक सिंघू बार्डर पर संयुक्त किसान मोर्चा की होने वाली अहम बैठकों में से एक होगी. इसके बाद ही आंदोलन को आगे किस दिशा में ले जाना है इसपर निर्णय लिया जाएगा. इसलिए उम्मीद लगाई जा रही है कि इसमें किसान आंदोलन को लेकर कोई बड़ा फैसला हो सकता है.

सरकार टेबल पर आयेगी तो हम किसानों की शहादत से जुड़े सभी तथ्य सामने रखेंगे: राकेश टिकैत

किसान नेताओं की मानें तो एमएसपी पर समिति गठन के लिए केंद्र सरकार को पांच नाम भेजे जाएं या नहीं-इस पर भी फैसला लिया जा सकता है. वहीँ, बैठक में लंबित मांगों पर भी चर्चा होगी. इनमें फसलों के एमएसपी पर कानूनी गारंटी, किसानों पर दर्ज मामलों की वापसी, आंदोलन के दौरान जान गंवाने वाले किसानों के परिवारों के लिए मुआवजे जैसे मुद्दे शामिल होंगे. बैठक को लेकर संयुक्त किसान मोर्चा की कोर समिति के सदस्य दर्शनपाल ने बताया कि बैठक में लंबित मांगों पर चर्चा के साथ ही आंदोलन के भविष्‍य को लेकर बातचीत होगी. दूसरी और भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर कहा- 4 दिसंबर की संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक में सभी किसान संगठन सर्वसम्मति से अहम फैसला लेंगे. सरकार टेबल पर आयेगी तो हम किसानों की शहादत से जुड़े सभी तथ्य सामने रखेंगे.

एमएसपी पर नहीं है कोई संशय: नरेंद्र सिंह तोमर

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर का कहना है कि एमएसपी पर कोई संशय नहीं है. एमएसपी पहले भी थी और आगे भी जारी रहेगी. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने एमएसपी में और पारदर्शिता लाने के लिए उच्चस्तरीय कमेटी का गठन किया है.