नई दिल्ली. इंडिया न्यूज के गुरु मंत्र शो  में तांबे के बर्तन के बारे में बात की जाएगी. तांबे के बर्तन कष्टों को कैसे खत्म करते हैं, जल प्रवाह से परेशानी होगी दूर, केसर का तिलक किसके लिए जरुरी है, दिव्यांगों और कन्याओं को भोजन कराने के लाभ,आज गुरु मंत्र शो में इन सभी विषयों पर चर्चा की जाएगी.

तांबा हमारा जो शरीर है इसको हम सूर्य बोलतो हैं. सूर्य इसलिए बोलतो हैं क्योंकी ये मांस से पूरी तरह कवर है ना इसके अंदर कुछ जा सकता है ना बहार कुछ आ सकता है ठीक है अब इस ऊपर की स्कीन को वनाने के लिए वही गोरपार्टिकल लगे और गोरपार्टिकल नाम क्या है शुक्र और बुध ये दोनो जब आपस में मिलते हैं और मिलकर के जब प्रायु होते हैं. तो हमारी स्कीन डवल्प होती है. और इसको भी हम सूर्य बोलते हैं अब आप देखो हमारे शरीर के अंदर क्या दौड़ता है. सबसे ज्यादा मात्रा में खून…

सूर्य और मंगल को कोम्बिनेशन एक ऐसा है जो एक दूसरे के बिना बेकार हैं. और आप जानते हैं जिस भी इंसान के शरीर के अंदर हीमोग्लोबिन कम होता है उसके अंदर काम करने की शमता आपने आप कम हो जाती है रोग प्रतिरोग की शमता कम हो जाती है तो तांबा, तांबा धातु जो ये इम्यूनिटी को बढाने वाला नही है आप देखोगे कि मंदिरो में जो भी बर्तन इस्तेमाल किये जाते हैं. आपके सभी सवालों का जवाब देंगे एस्ट्रो साइंटिस्ट जीडी वशिष्ठ इंडिया न्यूज के खास प्रोग्राम गुरु मंत्र में.

गुरु मंत्र: जानिए कुंडली के किस योग से बच्चों को नशे की लत लगती है

गुरु मंत्र: जानिए कौन से घर का नंबर बनाएगा धनवान

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App