नई दिल्ली. इंडिया न्यूज के खास प्रोग्राम गुरु मंत्र में आज सूर्य के विषय पर बात की जाएगी. सूर्य हमारें सभी ग्रहों में से महत्वपूर्ण ग्रहों में से एक हैं. सूर्य को हमारे कुंडली में सबसे प्रभावी ग्रह होता है जो हमारी जिंदगी को अच्छी व बुरी बना देते हैं. सूर्य जिस कुंडली में सही स्थान पर होता है और सही दिशा में होता है उन लोगों के काम कभी नहीं अटकतें.

सूर्य को आग का गोला कहा जाता है. सूर्य एक ऐसा ग्रह है जिसका हमारी जिंदगी से सीधा कनेक्शन होता है. अगर सूर्य जातक की कुंडली में सही स्थान पर बैठते हैं तो इंसान की जिंदगी को खुशियों से भर देता है. सूर्य जब कुंडली के पहले घर में होता है तो वह इंसान को तरक्की देता है और मेहनत का फल अवश्य होता है. वहीं अगर जिसकी कुंडली में सूर्य सही स्थान पर न हो तो इंसान को बर्बाद कर देता है.

कुंडली में दूसरे घर का सूर्य इंसान को वाहनों का सुख मिलता है. पैसे की कमी नहीं होती है. तीसरे घर का सूर्य इंसान को परिवार में एकता में बांधे रखता है. इसे यूं भी कह सकते हैं ये इंसान रिश्तों को बखूब निभाता है. लेकिन छठे घर का सूर्य इंसान के लिए नकारात्मक फल देता है. सांतवे घर का सूर्य पति पत्नी के रिश्ते के लिए घातक होता है. इसी प्रकार जब सूर्य और शनि का मेल हो जाए तो इंसान को झूठा व लालची बनाता है.

पूरा शो वीडियो में देखें..

गुरु मंत्र: शनि के बुरे प्रभाव से बचने के लिए करें ये काम

गुरु मंत्र: कुंडली में खराब शनि को ठीक करने वाले ज्योतिषीय उपाय

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App