नई दिल्ली. इंडिया न्यूज के खास प्रोग्राम गुरु मंत्र में आज निसंतान दंपति के विषय पर बात की जाएगी. जिस घर में संतान नहीं होती है वह घर सुना रह जाता है. जिस दंपति को संतान का सुख नहीं मिलता वह डॉक्टर और साधु संतों के चक्कर लगा लगा कर परेशान हो जाते हैं. आज गुरु मंत्र में गुरु विशिष्ठजी निसतांन दंपति का न होना के पीछे के कारण क्या होते हैं.

जन्म कुंडली में ऐसे कई योग होते हैं जिनसे पता चलता है कि हमें संतान का सुख प्राप्त होगा कि नहीं. कुंडली मिलान में इन सभी सुखों को शादी से पहले मिलान किया जाता है. लड़की की जब कुंडली मिलान की जाती है तब ज्योतिष यह मिलान करके सही वर को बताता है कि किस वधू के लिए कौन ठीक रहेगा और कौन नहीं. कई बार कुंडली में कई योग ऐसे होते हैं कि आपको एक बच्चा होगा या दो बच्चे होंगे.

कई बार आपने ऐसा देखा होगा कि पत्नी की कुंडली में संतान के योग हो और पति की कुंडली में बच्चे होने के योग न हो तो ऐसे में स्पर्म पॉर्निंगंग की दिक्कत होती है, इसके लिए जातक बृहस्पति गृह से जुड़ा उपाय कर हम इस परेशानी से छुटकारा पाया जा सकता है. इसी प्रकार केतु खराब अवस्था में हो और मंगल बच्चे के ग्रह के साथ संबंध रखता है तो बच्चा होने के बाद कई परेशानियां आती हैं. ऐसे में बच्चा की जान को खतरा बना रहा है.

बच्चों संबंधी परेशानी के लिए इन अचूक उपायों का करें इस्तेमाल
1. इसके लिए जातकों को एक सूती लाल कपड़े को सीधे बाजू पर बाधें.
2.दो पीपल के लौटे लें और एक में दूध और दूसरे में शहद भर कर जच्चा के कमरे में रखें.
3. जौ के पानी को बोतल में भरकर जच्चा के कमरे में रख दें, और इस उपाय को कर इस पानी व समान को जल प्रवाह कर दें.

गुरु मंत्र: कुंडली में शुक्र ग्रह की कौन सी चाल से होगी मां लक्ष्मी की कृपा

गुरु मंत्र: जानिए कुंडली से लक्ष्मी दिलाने वाले शुक्र ग्रह के अचूक उपाय

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App