नई दिल्ली. हनुमान जी को संकटमोचन कहा जाता है. हिंदूं शास्त्रोंं के अनुमान बजरंग बली की आराधना सच्चे मन से वो आपको सभी तरह से संकट से बाहर निकाल देते हैं. यह भी कहा जाता है कि हनुमान जी के भक्तों पर  कभी किसी गलत शक्ति का प्रभाव नहीं पड़ता है. मंगलवार का दिन महावीर जी का दिन होता है.  इसके अलावा मंगल का हमारी कुंडली में भी खास महत्व है. अगर आपकी शादीशुदा जिंदगी में कलेश दूर होने का नाम नहीं ले रही होती है तो इसके लिए मंगल एक सबसे बड़ा कारण है. अगर परिवार में आपके रिश्ते खराब हो रहे हैं या शादीशुदा जिंदगी से कलह जाने का नाम नहीं ले रही है तो बिल्कुल भी घबराइए नहीं. कुंडली में मंगल की चाल हर रूके हुए काम को और रिश्तों को पटरी पर ला देंगी.

इसके लिए जरूरत हैं कुंडली से मंगल के दोष को खत्म कर देने की. कुंडली में मंगल आपके लिए कैसे मंगलकारी होगा आज गुरु मंत्र शो में इसी बात पर चर्चा की जाएगी. अगर मंगल अकेला हो तो हमारी कुंडली में कुछ बुरा नहीं होता हैं. लेकिन मंगल हमारी कुंडली में अपने दुश्मनों के साथ बैठ जाए तो मंगल ग्रह का नकारात्मक प्रभाव पड़ता है. मगंल को बुरा करने वाले ग्रह बुध और शुक्र होते हैं और शुक्र जो है वो अपने आप में ताकत का एक बहुत बड़ा गोला है. अगर मंगल के साथ शुक्र ग्रह कुंडली के 10वें घर में बैठ जाए तो ये बहुत ही घातक योग कहलाता है.

लेकिन क्या आप जानते हैं कि मंगल की बदली चाल से आपके हर संकट कैसे होंगे स्वाहा, शादीशुदा जिंदगी से कलह को कैसे दूर करेगा मंगल, परिवार की सेहत सुधारने वाले अचूक उपायों क्या है, मंगल की कौन सी चाल करेगी दुख-दर्द दूर और कुंडली का खराब मंगल कब बिगाड़ता है आपके इन सबी सवालों का जवाब दे रहे हैं एस्ट्रो साइंटिस्ट जीडी वशिष्ठ इंडिया न्यूज के खास प्रोग्राम गुरु मंत्र में.

गुरु मंत्र: जानिए सपनों का ग्रहों से क्या है खास कनेक्शन

गुरु मंत्र: कड़वी बोली के घातक परिणाम और उससे बचने के उपाय जानिए

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App