नई दिल्ली. इंडिया न्यूज के खास प्रोग्राम गुरु मंत्र में मोटापे विषय को लेकर कई जरूर बात हुई. गुरु मंत्र में देश के मशहूर गुरु, गुरु विशिष्ठ जी ने बताया कि कैसे इंसान की जन्म कुंडली और मोटापे का आपस में संबंध होता है. मोटापा सिर्फ व्यस्त दिनचर्या या बाहर का खान-पान की वजह से ही नहीं आता, बल्कि जन्म कुंडली में मौजूद दोषों की वजह से भी होता है. आजकल लोगों को लगता है कि उनका मोटापा जिम या अन्य प्रकार के वर्क आउट से ही दूर होगा लेकिन इसका एक असर कुंडली के दोषों को कम करने से ही होगा.

उपाय: अक्सर आपने देखा होगा कि कई लोगों महीने भर जिम में पसीना बहाते हैं लेकिन फिर भी उनका मोटापा कम नहीं होता, इसकी वजह से है जन्म कुंडली में मौजूद बुध और शुक्र ग्रह का दोष. हमारी कुंडली में बुध व शुक्र ग्रह के दोष को कम करने के लिए आपको 43 दिन तक एक खाली मटका लेकर उसपर ढक्कन लगाकर जल प्रवाह करना चाहिए. ऐसा करने से बुध ग्रह का प्रभाव जल्द कम होगा और आपको मोटापे से छुटकारा मिल जायेगा.

इसी तरह यदि कोई शख्स शुक्र ग्रह से परेशान हो या शुक्र ग्रह उनकी जन्म कुंडली में पापी ग्रहों (राहु, केतु, शनि) के साथ मिल जाए तो इसका दोष उत्पन्न होता है. इसके लिए आपको तांबे का छेद वाला लौटा लेकर जल प्रवाह करना चाहिए इससे शुक्र का प्रभाव कम होगा और इस समस्या से छुटकारा मिल जाएगा.

गुरु मंत्रः इस वजह से नहीं बनती सास-ननद में, करें ये उपाय तो आएगी रिश्तों में मिठास

गुरु मंत्र : जीवनसाथी से रहती है अनबन तो अपनाएं ये उपाय, सुखमय हो जाएगा वैवाहिक जीवन

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर