दिल्ली/कोलकाता.  मंगलवार को कोलकाता में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो में हुए हंगामे पर बवाल थमता नजर नहीं आ रहा है. बीजपी और टीएमसी आमने-सामने आ गए हैं. आज सुबह 11 बजे बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर टीएमसी पर हिंसा का आरोप जड़ा. शाह ने चुनाव आयोगी की चुप्पी पर भी सवाल उठाए थे. अब टीएमसी ने भी प्रेस कॉन्फ्रेंस कर के अमित शाह पर पलटवार किया है. टीएमसी ने दावा किया कि अमित शाह बंगाल से बाहर के गुंडे लेकर रोड शो में आए थे जिन्होंने कोलकाता में मंगलवार को हिंसा की घटना को अंजाम दिया और ईश्वर चंद्र विद्यासागर की मूर्ति भी तोड़ दी.

तृणमूल कांग्रेस के सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद पलटवार करने के लिए कोलकाता में प्रेस कॉन्फ्रेंस किया. इसमें उन्होंने बीजेपी अध्यक्ष को सबसे बड़ा झूठा बताया. ब्रायन ने कई वीडियो भी दिखाएं जिनसे (उनके अनुसार) साबित होता है कि हिंसा की घटना बीजेपी की साजिश थी. ब्रायन ने केंद्रीय सुरक्षा बलों को भी राज्य बीजेपी के इशारे पर काम करने का आरोप लगाया.

इससे पहले अमित शाह ने अपने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था कि बंगाल में लोकतंत्र की हत्या हो रही है. अमित शाह ने चुनाव आयोग की भूमिका पर भी सवाल खड़े किए. उन्होंने कहा कि बीजेपी बंगाल में चुनाव जीतने जा रही है इसी कारण ममता बनर्जी और तृणमूल कांग्रेस हिंसा पर उतर आई है. ईश्वरचंद्र विद्यासागर की प्रतिमा तोड़े जाने की घटना पर भी अमित शाह ने टीएमसी पर आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि हारी बाजी पलटने के लिए टीएमसी कार्यकर्ताओं ने एक महान शिक्षाशास्त्री की प्रतिमा तोड दी. अमित शाह ने भी तीन तस्वीरें प्रेस कॉन्फ्रेंस में दिखाईं. उन्होंने कहा कि बीजेपी कार्यकर्ता कॉलेज के बाहर थे, टीएमसी कार्यकर्ता कॉलेज के अंदर थे. ऐसे में मूर्ति किसने तोड़ी यह साफ है.

West Bengal Violence BJP vs TMC: बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा- बंगाल में लोकतंत्र की हत्या हो रही है, चुनाव आयोग बना हुआ है मूकदर्शक

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App