नई दिल्ली. देश के चार राज्यों में विधानसभा चुनाव तो कुछ ही महीने बाद लोकसभा चुनाव 2019 होने वाले हैं जिसे लेकर राजनीतिक गलियारों में हवा तेज है. इन दिनों खबरें हैं भारतीय जनता पार्टी, बीजेपी में एक और योगी आदित्यनाथ की एंट्री हो सकते हैं. जी हां, परिपूर्णानंद स्वामी को लेकर ये चर्चा चल रही है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार परिपूर्णानंद स्वामी लोकसभा चुनाव या हैदराबाद की किसी सीट से विधानसभा चुनाव 2018 का उम्मीदवार बनाया जा सकता है.

परिपूर्णानंद स्वामी को लेकर बीजेपी, विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी), राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस), बजरंग दल और दूसरे अन्य हिंदुत्व संगठन स्वागत करने में लगे हैं. बतौर मीडिया पार्टी परिपूर्णानंद स्वामी को सिंकदराबादा या मलकानगिरी लोकसभा सीट से चुनाव या फिर कारवान या चंद्रयानगुट्टा विधानसभा सीट से चुनाव लड़ा सकती है. बताया जा रहा है कि हिंदुत्व संगठन भगवा छवि का इस्तेमाल कर हिंदू वोटरों का लुभावा चाहते हैं.

बता दें तेलंगाना की सिकंदराबाद सीट से कांग्रेस की ओर से सबसे आगे भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान अजहरुद्दीन अजहर का नाम चल रहा है. अपने गृह प्रदेश तेलंगाना से लोकसभा चुनाव 2019 लड़ने के प्रति अजहरुद्दीन रुचि जाहिर कर चुके हैं. इसका मतलब ये है कि अगर स्वामी को इस सीट से उतारा जाता है तो अजहरूद्दीन की टक्कर परिपूर्णानंद स्वामी से हो सकती है. बतौर मीडिया भाजपा के विधायक एनवीएसएस प्रभाकर तो विजयवाड़ा के काकीनाड़ा स्थित मठ स्वामी का स्वागत करने भी पहुंच चुके हैं. भाजपा विधायक उप्पल ने तो यह तक कहा कि चुनाव में हमें योगी आदित्यनाथ जैसा नेता चाहिए.

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव 2018: फेसबुक पर 15 हजार लाइक्स और ट्विटर पर 5000 फॉलोअर्स होने पर ही टिकट देगी कांग्रेस

नरेंद्र मोदी के अनुशासन से ही इंदिरा गांधी का कनेक्शन, विनोबा भावे ने इमरजेंसी को क्यों कहा था अनुशासन पर्व?

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App