नई दिल्ली: राफेल मामले को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के बयान से विवाद खड़ा हो गया है. दरअसल राहुल गांधी ने कहा था कि सुप्रीम कोर्ट ने भी कहा है कि चौकीदार चोर है. बीजेपी सांसद मीनाक्षी लेखी ने राहुल गांधी के इस बयान को सुप्रीम कोर्ट की अवमानना बताते हुए याचिका दायर की थी जिसपर सुनवाई करते हुए शीर्ष अदालत ने राहुल गांधी को नोटिस जारी कर 23 अप्रैल तक उनसे जवाब तलब किया है. उनपर आरोप है कि उन्होंने राफेल मामले पर सुप्रीम कोर्ट के आदेश को तोड़-मरोड़कर पेश किया गया. सोमवार को मीनाक्षी लेखी की याचिका पर सुनवाई के दौरान कोर्ट ने कहा कि हमने ये बात कभी नहीं बोली कि चौकीदार चोर है. इस मामले पर कोर्ट ने राहुल गांधी को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है और 23 अप्रैल तक उन्हें जवाब देने का वक्त दिया गया है. 

दरअसल राहुल गांधी के राफेल को लेकर पीएम मोदी के खिलाफ बयान के बाद रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने भी चुनाव आयोग में राहुल गांधी की शिकायत की थी. निर्मला सीतारमण ने कहा था कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ जो बयान दिया है वो झूठा है. उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के हवाले से राहुल गांधी प्रधानमंत्री को चोर कह रहे हैं जो सरासर गलत है.

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने राफेल मामले पर पिछली सुनवाई के दौरान केंद्र सरकार की प्रारंभिक आपत्तियों को खारिज कर दिया था जिसमें सरकार ने दस्तावेजों पर विशेषाधिकार बताया था. सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि वो राफेल मामले में रक्षा मंत्रालय से फोटोकॉपी किए गए गोपनीय दस्तावेजों का परीक्षण करेगा. कोर्ट के फैसले के मुताबिक याचिकाकर्ता के दिए दस्तावेज अब सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के हिस्सा होंगे.

अपने फैसले में चीफ जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस एसके कौल और केएम जोसेफ की पीठ ने कहा था कि सरकार द्वारा उठाई गई प्राथमिक आपत्तियों पर निर्णय लेने के बाद ही इस मामले में फैक्ट की जांच की जाएगी. इससे पहले 14 दिसंबर के दिए फैसले में सुप्रीम कोर्ट ने राफेल लड़ाकू विमान सौदे के खिलाफ सभी याचिकाओं को खारिज कर दिया था.

Arvind Kejriwal on Amit Shah: गोवा में बोले अरविंद केजरीवाल- फिर सत्ता में आए नरेंद्र मोदी तो अमित शाह बनेंगे गृहमंत्री

Congress Attacks BJP: राफेल पर फ्रांसीसी अखबार के दावे के बाद कांग्रेस का भाजपा पर हमला, कहा- नरेंद्र मोदी हैं तो मुमकिन है

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App