भोपाल. भारतीय जनता पार्टी की फायर ब्रांड नेता और भोपाल लोकसभा सीट से बीजेपी कैंडिडेट साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने हाल ही में 26/11 मुंबई हमले में शहीद हेमंत करकरे पर विवादित टिप्पणी की. उनकी इस टिप्पणी के बाद के खूब विवाद हुआ. अभी हेमंत करके पर दिए गए बयान से उपजा विवाद थमा ही नहीं था इस बीच उन्होंने बाबरी मस्जिद को लेकर बयान दिया है. बाबरी मस्जिद को लेकर साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने कहा कि उन्होंने बाबरी मस्जिद को गिराने में मदद की थी.

भोपाल में चुनावी प्रचार के दौरान साध्वी प्रज्ञा ने एक टीवी चैनल से बात करते हुए ये बयान दिया. साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने कहा कि वह न सिर्फ बाबरी मस्जिद पर चढ़ी बल्कि ढांचे को गिराने में मदद की. उनके इस विवादित बयान से एक बार फिर विवाद खड़ा हो गया है. उनके इस विवादित बयान से साल 1992 में गिराई गई बाबरी मस्जिद की यादें राजनीतिक गलियारों में फिर ताजा हो गईं.

टीवी चैनल से बात करते हुए प्रज्ञा ठाकुर ने कहा कि अयोध्या में निश्चित रूप से राम मंदिर बनाया जाएगा. ये बहुत ही भव्य राम मंदिर होगा. जब उनसे ये पूछा गया कि राम मंदिर कब तक बनेगा. इस सवाल के जवाब साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने कहा कि हम अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण निश्चिततौर पर करेंगे आखिर हम बाबरी मस्जिद को गिराने गए थे. साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने आगे कहा कि मैंने बाबरी मस्जिद के ढांचे को चढ़कर तोड़ा था, मुझे इस बात का गर्व है कि ईश्वर ने मुझे ये अवसर और शक्ति दी, अब हम वहीं राम मंदिर का निर्माण करेंगे.

साध्वी प्रज्ञा ठाकुर द्वारा दिए गए इस बयान पर चुनाव आयोग ने सख्त एतराज जताया है. चुनाव आयोग ने तुरंत एक्शन लेते हुए साध्वी प्रज्ञा को आचार संहिता का उल्लंघन करने का नोटिस थमा दिया. इतना ही नहीं मध्य प्रदेश के मुख्य चुनाव अधिकारी वीएल कांताराव ने सभी राजनीतिक दलों के लिए एक सलाह भी जारी कर दी.

मध्य प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि बार-बार आचार संहित के मॉडल कोड का उल्लंघन करने पर व अपमानजनक भाषा का प्रयोग करने पर कड़ी कार्रवाई की जा सकती है. मुख्य चुनाव अधिकारी द्वारा जारी की गई एडवाइजरी में कहा गया कि नेताओं के आपत्तिजनक और विवादित बयानों के चलते जो शिकायतें मिल रही हैं और जिनसे ये स्पष्ट पता चल रहा है कि नेता जो भड़काउ भाषण दे रहे हैं जिससे समाज में नफरत और असंगति फैल सकती है.

आपको बता दें कि बीते दिनों साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने मुंबई हमले में शहीद हुए महाराष्ट्र के तत्कालीन एटीएस चीफ हेमंत करकरे पर विवादित बयान दिया था. उन्होंने संवाददाताओं से बात करते हुए कहा था कि मैंने हेमंत करकरे को श्राप दिया था कि तुम्हारा सर्वनाश हो. 

EC Notice to Sadhvi Pragya: शहीद हेमंत करकरे पर टिप्पणी के बाद चुनाव आयोग ने साध्वी प्रज्ञा से 24 घंटे में मांगा जवाब

Narendra Modi on Pragya Thakur: पीएम नरेंद्र मोदी ने किया मालेगांव धमाके की आरोपी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के लोकसभा चुनाव लड़ने का बचाव, बोले- राहुल गांधी, सोनिया गांधी भी जमानत पर बाहर

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App